NIA क्या है? जानिये हिंदी में NIA Full Form In Hindi

0
183
nia full form in hindi

दोस्तों, NIA ऐसा संगठन है जिसका गठन देश से आतंकवाद को खत्म करने के लिए हुआ है। क्या आपको पता है की NIA क्या है, NIA Full Form In Hindi क्या है? भारत देश पर अक्सर ही आतंकी हमले होते रहते हैं इन आतंकी हमलों से भारत देश और देश के नागरिकों को बहुत परेशानियां उठानी पड़ती है। इन हमलों से जान, मान और धन की भी हानि होती है। इनके इस कृत्य से देश का बहुत नुकसान होता है पहले भी ऐसे बहुत सारे हमले हो चुके हैं और यह आज से नहीं बहुत पहले से होता आ रहा है। पहले इन हमलों की जांच के लिए कोई संगठन नहीं बनाया गया था, जब साल 2008 में मुंबई में आतंकियों ने हमला किया था और वहां बहुत से लोग विस्फोट में मारे गए थे। आज भी इस आतंकी हमले के बारे में सोच कर लोगों का दिल दहल जाता है।

आतंकी हमलो की जांच करने के लिए उस समय कोई ख़ास संस्था नहीं थी और इसके बाद एक जांच एजेंसी की अधिक जरूरत महसूस होने लगी थी जो सरकार के अधीन रहकर कार्य कर सके और आतंकी संगठन की गतिविधियों पर ध्यान दे सके ताकि उनके सभी इरादों को नाकामयाब कर सके। देखा जाए तो इस संगठन का गठन मुख्य रूप से आतंकवाद को धन उपलब्ध कराने वह आतंकी हमलों और उससे जुड़े लोगों की जांच पड़ताल करने के लिए किया गया है। इसी क्रम में आज हम आपको जानकारी देने वाले है NIA के बारे जैसे कि NIA क्या है,NIA Full Form In Hindi, NIA के क्या कार्यप्रणाली हैं, आदि। इन सभी बातों की जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे आज के इस Post को अंत तक जरूर पढ़ें हम आपको देने जा रहे हैं, तो चलिए शुरू करते है।

NIA Full Form In Hindi

NIA का Full Form ‘National Investigation Agency’ होता है और NIA Full Form In Hindi, हिंदी में इसे ‘राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण’ कहते हैं।

NIA क्या होता है?

NIA यानि की National Investigation Agency यह भारत की राष्ट्रीय जांच Agency है जिसका मुख्य कार्य आतंकवादी गतिविधियों को रोकने तथा उन पर नजर बनाए रखना है। यह भारत में आतंकवाद को समाप्त करने की दिशा पर अपनी जिम्मेदारी पूर्ण रूप से निभा रही है, इस संगठन को बहुत सारे अधिकार भी प्राप्त हैं। इन अधिकारों को खुद केंद्र सरकार ने एजेंसी को दिया है, इन अधिकारों के द्वारा NIA आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्त पाए जाने वाले लोगों पर वह आतंकी संगठन पर ठोस कार्यवाही कर सकती है और तो और उनकी पूरी संपत्ति को अपने कब्जे में ले सकती हैं और उस व्यक्ति या संगठन को आतंकवादी भी घोषित कर सकती है। इसमें राज्य सरकार का कोई हस्तक्षेप नहीं होता है।

NIA Full Form In Hindi
NIA Full Form

NIA का इतिहास-

इसका गठन देश की सुरक्षा के लिए किया गया है। बाहरी आतंकी हमलों से भारत देश को बचाने के लिए किया गया है तथा खुफिया आतंकी संगठन के बारे में पता लगाने के लिए भी इस एजेंसी को बनाया गया है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी को 2008 के मुंबई हमले के बाद स्थापित किया गया है, NIA का गठन 31 दिसंबर 2008 को भारत की संसद द्वारा पारित अधिनियम राष्ट्रीय जांच एजेंसी विधेयक 2008 के अंतर्गत हुआ था। उसी समय इसके संस्थापक राधाबिनोद राजू थे जिनका कार्यकाल 30 जनवरी 2010 में समाप्त हो गया।

NIA के लक्ष्य-

NIA का मुख्य लक्ष्य देश में शांति व सुरक्षा की व्यवस्था करना वह देश की कानून का प्रवर्तन करना है। NIA मानवाधिकारों की रक्षा और व्यक्ति की गरिमा को प्राथमिकता को महत्व देता है। प्रभावी व त्वरित सुनवाई सुनिश्चित करना तथा कानूनी प्रावधानों का अनुपालन करने के दौरान राज्य व केंद्र शासित प्रदेशों की सरकार के साथ अच्छा संबंध बनाए रखना है। NIA आतंकवाद से संबंधित सभी सूचनाओं को एजेंसियों द्वारा साझा करती है तथा देशों में आतंकवाद संबंधित कानून का अध्ययन कर नियमित रूप से भारत मैं मौजूदा कानूनों का मूल्यांकन करना वह परिवर्तन के लिए प्रस्ताव करना होता है। सूचीबद्ध अपराध इसके अंतर्गत अपराधों की एक सूची बनाई जाती है जिन पर NIA मुकदमा चला सकती है तथा गैर कानूनी गतिविधियों पर रोकथाम अधिनियम 1967 जैसे अधिनियम सूचीबद्ध अपराध में आते हैं।

NIA के कार्यक्षेत्र

NIA को केंद्र सरकार ने 2008 की धारा NIA के अनुरूप मामले में जांच एजेंसी इन मामलों की जांच पड़ताल स्वतंत्र रूप से करती है। जांच के बाद मामलों को NIA Special Court में ले जाया जाता है। गैर कानूनी गतिविधियों द्वारा सूचित अपराध के तहत Agency को मुकदमा चलाने के लिए केंद्र सरकार की मंजूरी आवश्यक होती है। NIA को राज्यों से बिना अनुमति प्राप्त किए राज्य में आतंकी संबंधित घटनाओं की जांच करने का अधिकार है ऐसे बहुत सारे कार्य है जो NIA द्वारा ही होते हैं जो आतंकी संगठनों के बारे में पता लगाने के लिए होते हैं। हाल के वर्षों हजार अट्ठारह के मूल अधिनियम में संशोधन करते हुए संसद द्वारा राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण विधेयक 2019 पारित किया गया है इस विधेयक में NIA को बहुत सारे अधिकार इस मामलों की जांच करने की अनुमति प्रदान है। जाली मुद्रा या Bank नोटों से संबंधित, अपराध प्रतिबंधित हथियारों का निर्माण व बिक्री तथा Cyber आतंकवाद विस्फोटक पदार्थ अधिनियम 1960 के तहत अपराध है। सूची मध्य अपराधों की सुनवाई के लिए केंद्र सरकार ने NIA Special Court यानी एक विशेष न्यायालय का भी गठन किया है। विशेष न्यायालय की अध्यक्षता एक न्यायाधीश द्वारा की जाती है जिसकी नियुक्ति केंद्र सरकार द्वारा उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश की सिफारिश की जाती है।

NIA कैसे Join करें

NIA एक ऐसा संगठन है जिसमें हर व्यक्ति कार्य करना चाहता है, जिसे खुफिया जानकारी हासिल करना वह जांच पड़ताल करने का जो शोक होता है उसके लिए या क्षेत्र बहुत सही है। इस पद को प्राप्त करने के लिए अभ्यार्थी को कड़ी मेहनत करनी पड़ती है और NIA में भर्ती प्रक्रिया कर्मचारी चयन आयोग के द्वारा होता है। इनके द्वारा ही भर्ती प्रक्रिया में सम्मिलित लोगों को नियुक्त कर दिया जाता है वही राष्ट्रीय जांच एजेंसी NIA में सब इंस्पेक्टर (SI) पदों पर भर्ती स्नातक यानी कि Graduate स्तर (CGL) परीक्षा के माध्यम से होती है।

NIA हेतु शैक्षणिक योग्यता

इस पद को प्राप्त करने के लिए आपका किसी भी Stream से स्नातक यानी कि Graduate होना आवश्यक है। यदि आप स्नातक नहीं है तो आप इस पद के लिए Apply नहीं कर सकते है। NIA में अलग-अलग पदों पर वेतन अलग-अलग शहरों के अनुरूप प्रदान की जाती है, श्रेणी बंद रूप में वेतन प्रदान किया जाता है।

SSC द्वारा आयोजित किये जाने वाले Exams की जानकारी

दोस्तों आज की Post में हमने आपको जानकारी दी NIA Full Form In Hindi और NIA क्या है ? आपको हमारा ये Post कैसा लगा हमे जरुर बताएं। साथ ही अगर आपके पास इस विषय से जुड़ी कोई सवाल या जिज्ञासा है तो आप वो भी हमें बता सकते हैं। मैं आशा करती हु की आप NIA Full Form In Hindi से अवगत हो गए होंगे। ऐसे ही जानकारी वाली लेख पढ़ने के लिए हमारे इस ब्लॉग से जुड़े रहे।