Home Full Form SAP Full Form In Hindi | SAP क्या है?

SAP Full Form In Hindi | SAP क्या है?

0
53
sap full form in hindi

अगर आप उन छात्रों में से हैं जो आगे जाकर Banking और Finance में अपना Career सँवारना चाहते हैं, तो यह लेख आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण होगा क्योंकि इस लेख में हम आपको बताएंगे कि SAP Full Form In Hindi क्या होता है? SAP क्या होता है? SAP के फायदे और नुकसान क्या हैं? और SAP का इतिहास क्या है? SAP के बारे में विस्तार से बात करने से पहले हम आपको बता दें, कि SAP एक तरह का Accounting Software होता है जिसका इस्तेमाल Business Management के लिए किया जाता है। SAP का इस्तेमाल कई बहुराष्ट्रीय कंपनियां भी करती हैं। ऐसे में इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए आपको इस Software का प्रयोग करना आना जरूरी है। आइए SAP के बारे में विस्तार से जानते हैं।

SAP Full Form क्या है?

SAP Full Form “System Application And Products” होता है। जबकि SAP Full Form In Hindi “सिस्टम अनुप्रयोग और उत्पाद” होता है। SAP एक तरह का Software है जिसक उपयोग Business Management के लिए किया जाता है। आइये SAP के बारे में विस्तार से जानते है।

SAP क्या होता है?

SAP एक Accounting Software होता है जो कि कई बहुराष्ट्रीय कंपनियों में Business Management के लिए प्रयोग किया जाता है। SAP एक तरह की Software कंपनी है जिसका मुख्यालय जर्मनी में स्थित है। यह एक ERP Software होता है जो कि बहुराष्ट्रीय कंपनियों द्वारा डाटा के प्रबंधन के लिए इस्तेमाल किया जाता है। यह Software इतना दक्ष है कि आप आसानी से Australia Plant में बैठकर Germany Plant में मौजूद Stock की जानकारी रख सकते हैं।

इसके अलावा SAP कई अन्य तरह के Software Solutions प्रदान करता है। उदाहरण के तौर पर SAP Anywhere जो कि एक ई-कॉमर्स और CRM Software पैकेज है, यह छोटे व्यवसायों की Marketing, Sales, Customer Services व Inventory के प्रबंधन के लिए डिजाइन किया गया है। इसके अलावा एक अन्य Software Business One में ग्राहकों से संबंधित वित्तीय संचालन और बिक्री जैसे कई अन्य पहलुओं को प्रबंधित करने के लिए डिजाइन किया गया है।

SAP के विभिन्न संस्करण

अब तक SAP के कई संस्करण आ चुके हैं। आइए जानते हैं यह संस्करण कौन-कौन से हैं:-

  • SAP R/1 : यह इसका सबसे प्रथम संस्करण है जिसे 1972 में Launch किया गया।
  • SAP R/2 : यह एसपी का दूसरासंस्करण है जिसका इस्तेमाल डेटाबेस संवाद आधारित व्यापार समाधान के लिए किया जाता है। इसे 1979 में पेश किया गया।
  • SAP R/3 : इस Software का डिजाइन Open Client Server System जैसे नए मानकों को ध्यान में रखते हुए डिजाइन किया गया।
  • SAP ERP Central Component (ECC) 6.0
  • SAP HANA : इसको एडवांस ERT Solutions के नाम से जाना जाता है तथा यह Cloud या फिर परिसर में स्थापित किया जा सकता है।

SAP के क्या फायदे होते है?

  • SAP के जरिए कोई भी Management से संबंधित काम आसानी से किया जा सकता है। जैसे कि आप इसमें Tracking, Planning, Data Management, Scheduling कर सकते हैं।
  • अगर आप SAP का इस्तेमाल करते हैं तो आप अपने Administrative खर्चे को कम कर सकते हैं।
  • सिस्टम अनुप्रयोग और उत्पाद (SAP Full Form In Hindi) Software का सबसे बड़ा फायदा है कि यह मौजूद डाटा का Duplicate नहीं बनाता।
  • यह बेहतर सहभागिता प्रदान करता है जिससे कि ग्राहक सेवा बढ़ाने में मदद मिलती है।
  • SAP Software एकदम सुरक्षित तथा Flexible भी है। जो आपके डाटा को सुरक्षित रखता है तथा आपके व्यवसाय को Hack होने से भी बचाता है।

Software Engineer कैसे बने?

SAP के क्या नुकसान होते हैं?

  • SAP काफी ज्यादा महंगा होता है क्योंकि इस तरह के Software को बड़ी कंपनी आसानी से चला सकती है। लेकिन छोटी कंपनियों के लिए इस Software को खरीदना काफी मुश्किल होता है।
  • SAP को चलाना काफी कठिन कार्य होता है। इस तरह के Software को चलाने के लिए उन कर्मचारियों की आवश्यकता होती है जो कि इसे चलाने में प्रशिक्षित है।

SAP को कब विकसित किया गया?

साल 1972 में SAP को विकसित किया गया। इसे जर्मनी के वॉलडॉर्फ (Waldorf) में बनाया गया। इस Software को बनाने का श्रेय IBM के 5 इंजीनियर को जाता है जिनका नाम था Claus Wellenruther , Klaus Tschira, Hans Werner Hector, Dietmar Hoop, Hasso Plattner । इस Software की प्रथम ग्राहक बनी जर्मन शाखा के इंपीरियल केमिकल इंडस्ट्रीज उन्होंने Software में एक मेनफ्रेम प्रोग्राम का विकास किया और इससे रियल टाइम सिस्टम Software का नाम दिया। इसका पहला कमर्शियल प्रोडक्ट SAP R/98 था। SAP ने 1993 से माइक्रोसॉफ्ट के साथ मिलकर काम करना शुरू किया था और इसके वर्तमान CEO का नाम बिल मैकडरमोट है।

वर्तमान में प्रौद्योगिकी और टेक्नोलॉजी के बढ़ने के साथ ही विश्व भर में सिस्टम अनुप्रयोग और उत्पाद (SAP Full Form In Hindi) का इस्तेमाल बहुत ज्यादा बढ़ गया है। SAP Software को चलाने वाले पेशेवरों की मांग काफी ज्यादा बढ़ गई है इसीलिए अगर आप SAP का Course करते हैं तो आप आसानी से किसी भी कंपनी में नौकरी हासिल कर सकते हैं। बशर्ते इसके लिए कुछ Eligibility Criteria है जिसे Follow करना जरूरी है। आइए जानते हैं कि SAP कोर्स कौन कर सकता है।

SAP के कई अनुप्रयोग हैं। आप इसके जरिए अपने व्यावसायिक आवश्यकताओं को की पूर्ति कर सकते हैं। SAP के मॉड्यूल में कई तरह के उपयोग शामिल है जिनमें मानव संसाधन, वित्त व विक्री आदि सम्मिलित है। यह किसी भी कंपनी के अलग-अलग विभागों का प्रबंधन करने में सक्षम है। इसके जरिए आप अपने व्यवसाय का संचालन आसानी से कर सकते हैं।

SAP के विभिन्न Courses

  • Human Resource Management (SAP HRM)
  • Project System (SAP PS)
  • Human Resource (HR)
  • Material Management (SAP MM)
  • Production Planning (SAP PP)
  • Sales And Distribution (SAP SD)
  • Financial Accounting And Controlling (SAP FICO)

SAP Course की Eligibility Criteria

वे छात्र जो Commerce से अपनी स्कूली शिक्षा पूरी कर चुके हैं तथा बैंकिंग और फाइनेंस में अपना करियर बनाना चाहते हैं। हालांकि छात्रों को कम से कम Graduation पूरी करना जरूरी है।

SAP कोर्स के बाद नौकरी की संभावनाएं

जिन छात्रों ने SAP का Course किया है, वे इस क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं। उनके पास नौकरी के ढेरों अवसर मौजूद है। आइए जानते हैं इसमें नौकरी के अवसर और उनकी Salary Package के बारे में।

  • Human Resources
  • Finance
  • Sales
  • Executive & Management
  • Marketing & Communications
  • Development and Technology
  • Corporate Operations
  • Customer Support
  • Consulting Services

वैसे तो सिस्टम अनुप्रयोग और उत्पाद (SAP Full Form In Hindi) Software की Salary कि यदि बात करें तो इसकी Salary अलग-अलग Job Roles में अलग-अलग हो सकती है। हालांकि अगर आप Fresher के रूप में अपने Career की शुरुआत कर रहे हैं तो आपकी शुरुआती Salary 25,000 से 30,000 रुपये तक हो सकती है। समय के साथ आपका अनुभव बढ़ता जाएगा तो आपकी Salary भी बढ़ती जाएगी।

Job Roles

  • Linux Programmer
  • Data Scientists
  • Mobile Engineers
  • Business Analyst
  • Obiee Consultant
  • Oracle Developer
  • SQL Programmer
  • Server Administrator
  • Digital Marketing
  • Embedded Systems Engineer
  • Cyber Security Professionals

निष्कर्ष (Conclusions)

इस लेख के जरिए हमने आपको SAP Full Form In Hindi? SAP क्या होता है? SAP के कितने प्रकार है? SAP के क्या फायदे हैं? SAP के क्या नुकसान हैं से संबंधित जानकारी देने का पूरा प्रयास किया है। हमें उम्मीद है आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई होगी। अगर यह जानकारी आपको उपयोगी लगी है, तो इसे अपने मित्रों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले। अगर आपके मन में कोई अन्य सवाल है तो हमें Comment Section में बताएं। हम आपको जवाब देने का हर संभव प्रयास करेंगे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here