SSC का Full Form क्या है? SSC द्वारा आयोजित किये जाने वाले Exams की जानकारी

ssc ka full form

दोस्तो आज भी हमारे भारत में बहुत से युवा ऐसे हैं जो प्राइवेट से ज्यादा सरकारी नौकरी को महत्व देते हैं। उसका सबसे मुख्य कारण यह भी है कि सरकारी नौकरी में न तो निकाले जाने का डर होता है नही तनख्वाह कम होने का इसके साथ ही सरकारी नौकरी करने वालों की अपनी अलग ही शान होती है। इसलिए आज भी बहुत से युवा प्राइवेट नौकरी को छोड़कर सरकारी नौकरी की तैयारी करने में अपना समय देना ज्यादा पसंद करते हैं। और उसके लिए दिन रात मेहनत भी करते हैं। दोस्तों जब हम बात करते है सरकारी नौकरी की तो हमारे दिमाग में सबसे पहले SSC का नाम आता है। SSC की तैयारी करने से पहले हमें उसके बारे में अच्छी तरह से जानकारी प्राप्त कर लेना चाहिए जैसे की SSC क्या है , SSC Ka Full Form क्या और SSC की तैयारी कैसे करते हैं आदि के बारे में पता कर लेना चाहिए।

तो चलिए दोस्तों आज हम इन्ही सवालों के बारे विस्तारपूर्वक जानकारी प्राप्त करेंगे।

SSC Ka Full Form

दोस्तों SSC Ka Full Form – Staff Selection Commission है। और हिंदी में इस इसे “कर्मचारी चयन आयोग” के नाम से भी जाना जाता है, 4 नवंबर सन् 1975 में इसकी स्थापना हुई थी। शुरुआत में इसका नाम Subordinate Services Commission रखा गया था सन् 1977 ई मे इसे बदलकर SSC यानि की Staff Selection Commission कर दिया गया था। और यही इसका अधिकारिक और सर्वमान्य Full Form है।

SSC क्या है।

दोस्तों SSC यानि की Staff Selection Commission 4 नवंबर सन् 1975 ई में इसकी स्थापना क्रेद सरकार (Central Government) के अंतर्गत हुई थी, एसएससी (SSC) इसका प्रमुख कार्य विभिन्न मंत्रालयों के Group B, Group C व Group D के अंतर्गत आनें वाले सभी पदों पर कर्मचारियों का चयन करना है। यह चयन परीक्षा के माध्यम से किया जाता है। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है , इसके अंतर्गत 7 क्षेत्रीय अर्थात Regional Office है, जो कि मुंबई, इलाहाबाद, बंग्लौर ,चेन्नई , गुवाहाटी और कोलकाता में स्थित है।

SSC में कौन-कौन से एग्जाम होते हैं।

दोस्तों अब तक तो आप समझ ही गए होंगे कि SSC सिर्फ सरकारी नौकरी के लिए भर्ती करवाया है। SSC में प्रशासनिक सेवा कम होते हैं। हर साल क्रेद सरकार और मंत्रालय द्वारा यह निर्धारित किया जाता है कि कितनी और किस पोस्ट की भर्ती के लिए Vacancies निकालनी है। जिसके तहत SSC द्वारा पुरे नौ अलग अलग लेवल के एग्जाम करवाए जाते हैं। आइए जानते हैं कि वो कौन-कौन से है।

1.एसएससी सीजीएल (SSC CGL)

एसएससी सीजीएल का Full Form – Combined Level Graduate Examination होता है। कर्मचारी चयन आयोग विभिन्न विभागों / संगठनों / मंत्रालयों के तहत विभिन्न समूह “बी” और समूह “सी” पदों के लिए आवेदकों की भर्ती के लिए संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा आयोजित करता है। इस परीक्षा में सम्मिलित होन के लिए आपका स्नातक होना अनिवार्य है। , SSC CGL का परीक्षा उत्तीर्ण करनें के बाद आप आयकर अधिकारी, आडिटर, और खाद्य विभाग के अधिकारी जैसे पदों पर नियुक्ति किया प्राप्त कर सकते है

2.एसएससी सीएचएसएल (SSC CHSL)

इसका Full Form Combined Higher Secondary Level Examination है। , इसके लिए आपका कक्षा बारहवीं उत्तीर्ण होना अनिवार्य है, तभी आप इस परीक्षा में सम्मिलित हो सकते है‌। कर्मचारी चयन आयोग, भारत सरकार के मंत्रालयों / विभागों / कार्यालयों के तहत लोअर डिविजनल क्लर्क / जूनियर सेक्रेटरी असिस्टेंट, पोस्टल असिस्टेंट / सॉर्टिंग असिस्टेंट और डेटा एंट्री ऑपरेटर के विभिन्न पदों के लिए संयुक्त परीक्षा आयोजित करता है। SSC CHSL के परीक्षा को उत्तीर्ण करने बाद आप विभिन्न विभागों में लोअर डिवीज़न क्लर्क अथवा क्लर्क के पद पर नियुक्ति प्राप्त कर सकते है|

3.एसएससी जेई (SSC JE)

  • इसका Full Form Junior Engineer है।
  • इसके अंतर्गत विभिन्न विभागों में Junior Engineer के पद पर नियुक्तियां होती है।
  • इन पदों पर नियुक्तियों हेतु आपके पास Engineering या Diploma का होना अनिवार्य है।

4.एसएससी जेएचटी (SSC JHT)

  • JHT का Full Form Junior Hindi Translator है। SSC JHT Exam
  • इस पद पर कार्य करने के लिए आपको हिंदी और अंग्रेजी दोनों ही भाषाओ का अच्छा ज्ञान होना अति आवश्यक है।
  • इस पद के अंतर्गत आपको दोनों भाषाओं यानि की हिंदी से इंग्लिश और इंग्लिश से हिंदी में अनुवाद करना होता है।

5.सीएपीऍफ़ (CAPF) or SSC CPO

CAPF का Full Form Central Armed Police Forces है। इसके अंतर्गत आपको केंद्र सरकार के पुलिस बल में नियुक्ति दी जाती है। कर्मचारी चयन आयोग दिल्ली पुलिस और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (CAPFs) में उप-निरीक्षक के पदों के लिए SSC CPO का Exams आयोजित करता है। जो विद्यार्थी Police Force में भर्ती होने का सपना देखते है वह इस Exam का हिस्सा बन सकते है। इस Exam में भाग लेने के लिए आपके पास ग्रेजुएशन होना अनिवार्य है।

6.एसएससी स्टेनो (SSC Steno)

इस परीक्षा के माध्यम से आप Stenographer से सम्बंधित पदों पर नियुक्तियां प्राप्त कर इस क्षेत्र में अपना Carrier बना सकते है। कर्मचारी चयन आयोग विभिन्न मंत्रियों / विभागों / संगठनों के लिए आशुलिपिक ग्रेड “सी” (समूह “बी”, गैर राजपत्रित) और आशुलिपिक ग्रेड “डी” (समूह “सी”) के पदों के लिए SSC Stenographer एग्जाम आयोजित करता है।

7. एसएससी जीडी (SSC GD)

इसका Full Form General Duty के परीक्षा में सेना के कई पद शामिल हैं। जिसमे (BSF) सीमा सुरक्षा बल, (CISF) केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल, ( (एनआईए) राष्ट्रीय जांच एजेंसी, (SSF) सचिवालय सुरक्षा बल, एवं (CRPF) केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल जैसे पदों पर नियुक्तियां की जाती है।

8. एसएससी मल्टीटास्किंग (SSC MTS)

जिसका Full Form Multitasking Staff है इसके अंतर्गत चपरासी, गार्डनर दफ्तरी, जमादार, जूनियर गेस्ट ऑपरेटर, चौकीदार, सफाईकर्मी, आदि शामिल होते हैं। कर्मचारी चयन आयोग हर साल भारत सरकार के विभिन्न मंत्रालयों / विभागों / कार्यालयों के तहत मल्टी टास्किंग स्टाफ के पदों के लिए योग्य उम्मीदवारों की भर्ती के लिए SSC MTS प्रतियोगी परीक्षा आयोजित करता है।

9. एसएससी वैज्ञानिक सहायक पद (SSC Scientific Assistant Post)

इसके अंतर्गत सभी वैज्ञानिकी विभागों में वैज्ञानिक सहायकों को भर्ती किया जाता है। कर्मचारी चयन आयोग वैज्ञानिक सहायक (Scientific Assistant) के पद के लिए योग्य उम्मीदवारों की भर्ती के लिए SSC Scientific Assistant परीक्षा आयोजित करता है। यदि आप बाढ़, तूफान, गर्मी की लहर आदि जैसे मौसम की स्थिति के अनुसंधान कार्य में रुचि रखते हैं, तो यह नौकरी आपके लिए उचित होगी।

SSC परीक्षा में शामिल होने की शैक्षणिक योग्यता

दोस्तों SSC परीक्षा के माध्यम से अलग-अलग विभागों के लिए अलग-अलग पद निर्धारित किये जाते है। जिसकी शैक्षिक योग्यता भी अलग-अलग होती है। SSC के लिए 10वी से लेकर Post Graduate और Diploma आदि के लिए पद निर्धारित होते है। इसलिए SSC के लिए आप अपनी शैक्षिक योग्यता के आधार पर आवेदन कर सकते है।

SSC उम्र की सीमा

आपको जानकर खुशी होगी कि अब SSC की परीक्षा में शामिल होनें के लिए उम्र की सीमा को 27 वर्ष से बढ़ाकर अधिकतम 30 वर्ष तक कर दिया गया है और इसकी न्यूनतम सीमा 20 वर्ष है, पहले यह सीमा 18 – 27 वर्ष थी, अगर आप आरक्षित वर्ग में आते हैं तो आपको नियमानुसार छूट प्रदान किए जाते है।

SSC के एग्जाम की तैयारी

अगर आप भविष्य मे SSC के Exam की तैयारी करने की सोच रहे हैं तो आपको गणित, सामान्य ज्ञान, अंग्रेजी और रीजनिंग विषय पर आपकी पकड़ बहुत ही मजबूत होनी चाहिए। और SSC के अलावा भी इन विषयों से संबंधित सवाल लगभग सभी Exam में पुछे जाते हैं। आप https://ssc.nic.in/ पर जाकर भी SSC Exam से संबंधित और भी ज्यादा जानकारी प्राप्त कर सकते है।

दोस्तों, ऐसे तो Exam कोई भी हो तैयारी करने में थोड़ी मुश्किलें तो आती ही है इसलिए हम आपको नीचे कुछ टिप्स दे रहे है ताकि जिससे आपको Exam की तैयारियों मे काफी मदद मिलेगी।

SSC Syllabus- SSC के Exam का अपना एक Confirm और Pattern Syllabus होता है। आप SSC के जिस भी विभाग के लिए तैयारी कर रहे हैं उससे संबंधित Syllabus का पता करके ही तैयारी करें।

SSC Study Material- दोस्तों आपको Exam के लिए सही Study Material की जानकारी होना अत्यंत आवश्यक है। आप इसे Internet से एकत्रित कर सकते है। आजकल तो इसके लिए अलग से बहुत से Coaching वगैरह चलाए जा रहे हैं। जो आपको ना सिर्फ इसके Pattern और Syllabus के बारे में जानकारी देते है बल्कि आपको Exam से संबंधित Study Material भी उपलब्ध करवाते है।

Time Table- Exam कोई भी उसके लिए सही Time Table का होना बहुत जरूरी है जिससे हम Subject के हिसाब से अपना समय निर्धारित कर लें। और किस Subject को कितना समय देना है यह सुनिश्चित कर लें।

SSC Previous Year Paper- जितना हो सके उतना SSC के Previous Year के पेपर को हल करने की कोशिश करें। इससे आप अंदाजा लगा सकते है कि आपको किस विषय पर ज्यादा मेहनत करने की जरूरत है।

Notes Planning- आप अपनी जानकारी के अनुसार Notes तैयार करें और उसका रिवीजन करें। जिससे आपको महत्वपूर्ण बिंदुओं को समझने में आसानी होगी।

दोस्तों आज की Post में हमने आपको जानकारी दी SSC Ka Full Form और उसके Exam के बारे में, आपको हमारा ये पोस्ट कैसा लगा हमे जरुर बताएं। साथ ही अगर आपके पास इस विषय से जुड़ी कोई सवाल या जिज्ञासा है तो आप वो भी हमें बता सकते हैं।