RIP क्या है? RIP Meaning In Hindi RIP का क्या मतलब है?

rip full form in hindi

दोस्तो आपने अक्सर ऐसा देखा होगा कि Social Media पर कही भी किसी Page या Group मे किसी व्यक्ति की मृत्यु का समाचार दिखाया जाता है तो उसमे Comment Box मे अधिकतर लोगो के द्वारा RIP का ही इस्तेमाल किया जाता है। मगर दोस्तो क्या आपने कभी सोचा है कि आखिर इस शब्द की उत्पत्ति या यु कहे की इसकी शुरुआत कहां से हुई। क्या आपको पता है की RIP क्या है? RIP Full Form In Hindi क्या है? और इसको क्यों इस्तेमाल किया जाता है?

वैसे तो आप सभी ने इस RIP शब्द को कई बार सुना होगा और बहुत बार प्रयोग भी किया होगा। मगर कभी ना कभी इस RIP शब्द के बारे मे और कुछ जानने की जिज्ञासा भी जरुर हुई होगी। इसलिए दोस्तो आज के इस Post मे हम आपको RIP शब्द से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियों को साझा करेगे। तो चलिए शुरू करते है। –

RIP Full Form In Hindi

RIP को अंग्रेजी मे “Rest in Peace” कहते है और RIP Full Form In Hindi “शांति से आराम करें” होता है। यह शब्द कहाँ से लिया गया और इसको उपयोग क्यों किया जाता है, उसके बारे में पूरी जानकारी निचे दी गई है।

RIP शब्द कहा से लिया गया है?

आप मे बहुत से लोगो आज भी यह लगता है या यु कहे कि उन्हे गलतफहमी है कि RIP एक English Word है। लेकिन मैं आपको बताना चाहुंगी कि ऐसा बिल्कुल भी नही है है। आज हम आपको इस शब्द से जुड़ी बिल्कुल सही-सही Information देती हूं। RIP को लैटिन भाषा के “Requiescat in Peace” से लिया गया है। यह किसी भी हिंदी या फिर अंग्रेजी शब्दो से नही लिया गया है।

RIP शब्द का क्या मतलब होता है?

दोस्तो अक्सर आपने देखा होगा कि जब किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो लोग उस व्यक्ति के लिए RIP शब्द का प्रयोग जरूर करते है। मगर क्या आपने कभी सोचा है कि RIP शब्द का प्रयोग या उच्चारण करने का तात्पर्य क्या है। अगर नही तो चलिए हम आपको बताते है कि मरे हुए व्यक्तियो के लिए इस शब्द का प्रयोग क्यो किया जाता है। RIP शब्द का प्रयोग किसी व्यक्ति को श्रद्धांजलि देने के लिए किया जाता है। अगर किसी व्यक्ति की किसी भी कारणवश मृत्यु हो जाती है और व्यक्ति को श्र्द्धांजलि देना है तो यह उस मृत व्यक्ति की आत्मा की शांति के लिए किया जाने वाला एक तरह का प्रार्थना है। जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि RIP मृत व्यक्ति की आत्मा की शांति के लिए किया जाने वाला एक तरह का प्रार्थना है।

ईसाई धर्म मे इसका प्रयोग जिस व्यक्ति की मृत्यु हो गई है उसकी आत्मा को शांति प्राप्त हो इसी कामना को करते हुए किया जाता है। सम्पूर्ण विश्व में अलग-अलग जाति अलग-अलग धर्मो के लोग रहते है और सभी धर्मों और जातियो मे जीवन और मरण को लेकर लोगो की अलग-अलग धारणा और मान्यताए है जिसका आपको अलग अलग जगहो मे अलग-अलग रूप से विवरण देखने को मिलता है। सभी धर्म के अपने अपने ग्रंथ होते है जिस पर लिखे गए उपदेशों, और विचारों पर लोग चलते है और अपनी अपनी धार्मिक आस्था का अनुसरण करते हुए उसका पालन करते है।

ऐसा कहा जाता है कि ईसाई धर्म मे मृत्यु के बाद मनुष्य को इसलिए दफनाया जाता है क्योकि ऐसी मान्यता है की एक दिन Last Judgment Day आएगा और उस दिन जितने भी शव है सभी जीवित हो जाएंगे। इसलिए यही वजह है, उस दिन की इंतजार के लिए ही कहा जाता है की “Rest In Peace” जिसका तात्पर्य है शांति से आराम करो (RIP Full Form In Hindi) आपने देखा होगा कि ईसाई धर्म मे किसी भी मृत व्यक्ति को कब्र मे दफनाकर उस कब्र के ऊपर लिखा दिया जाता है “RIP”

RIP शब्द का इस्तेमाल क्यो किया जाता है?

RIP शब्द का प्रयोग मृत व्यक्ति के लिए किया जाता है। ये तो आप सब जानते है कि ईसाई और मुस्लिम दोनो ही धर्मो मे व्यक्ति के मृत्यु के पश्चात उसको दफनाए जाने की परंपरा है। जैसा कि हमने आपको बताया कि ईसाई धर्म में मनुष्य की मृत्यु के पश्चात उसके शव को दफना दिया जाता है। तो ज्यादातर जिस भी ताबूतो मे उस शव को रखते है उस पर उसके अलावा और भी कई स्थानो वह वहां मौजूद कब्र के ऊपर Rest In Peace (शांति से आराम करें- RIP Full Form In Hindi) लिखा होता है। मृत व्यक्ति के लिए अपना आदर और सहानुभूति व्यक्त करने हेतु भी ऐसा प्रयोग मे लाते है।

rip full form in hindi
RIP Meaning In Hindi

RIP शब्द का इस्तेमाल कब करना चाहिए?

RIP शब्द के इस्तेमाल के बारे मे बात करे तो ईसाइयों की कब्रों पर इसका प्रयोग सबसे पहले किया जाता था। इस धर्म के अनुसार यह भी माना जाता है कि हमारा शरीर अमर है। मगर अब ऐसा नही है अब लगभग सभी जगहो सभी धर्मो पर RIP शब्द का प्रयोग मरे हुए व्यक्ति के लिए किए जाने वाले प्रार्थना मे बोला जाता है। अब श्रद्धांजलि देने के भाव से RIP शब्द का प्रयोग किया जाता है। इस शब्द के माध्यम से व्यक्ति भगवान से यह प्रार्थना करता है की से ईश्वर आप मृत व्यक्ति की आत्मा को शांति प्रदान करे।

इतना ही नही अगर RIP शब्द का सबसे ज्यादा इस्तेमाल कही किया जाता है तो वो है Social Media, अब लोग Social Media पर इस RIP (Rest In Peace) शब्द का बहुत ही ज्यादा प्रयोग कर रहे है। Shortcut के इस जमाने मे लोग बिना सोचे समझे धड़ल्ले से इस शब्द का प्रयोग कर रहे है। दोस्तो हमे यह ध्यान रखना चाहिए कि RIP सिर्फ एक शब्द नही है यह एक भाव एक Emotions है। इसलिए बेहतर यही होगा कि हम इसका प्रयोग बहुत ही सोच समझकर करे।

दोस्तो जैसा कि हम शुरू से कहते आए है कि हर धर्म की अपनी अपनी मान्यताएं और विचार और हमे सबका समान भाव से सम्मान करना चाहिए। जहा ईसाई धर्म मे Rest In Peace तो वही हिन्दू धर्म की बात करे तो यहां किसी व्यक्ति की मृत्यु होने पर उस मृत को श्रद्धांजलि देने के लिए ओम शांति शब्द का प्रयोग कर उस मृत व्यक्ति के आत्मा को मोक्ष की प्राप्ति हो, यह प्रार्थना किया जाता है। RIP की जो अवधारणा है उसको हिन्दू धर्म मे नही माना जाता है। क्योकि हिन्दू धर्म के मान्यता के अनुसार आत्मा को अमर माना गया है। इतना ही नही हिन्दू धर्म मे और भी कई अन्य शब्दों का प्रयोग किया जाता है। जैसे कि –

  • भगवान उनकी आत्मा को शांति दे!
  • ॐ शांति!
  • भगवान उन्हें अपने चरणों में स्थान दे!
  • उन्हें स्वर्ग में स्थान मिले, इत्यादि!

क्या RIP शब्द का प्रयोग करना चाहिए?

दोस्तो अब आपके मन मे भी यह सवाल उत्पन्न हो रहा होगा कि क्या RIP शब्द का उपयोग करना चाहिए तो चलिए हम आपकी इस Confusion को खत्म कर देते है। ये तो हम सभी जानते है कि RIP यानी की Rest In Peace शब्द का प्रयोग ईसाई धर्म मे सबसे पहले किया गया था। मगर आपको जानकर हैरानी होगी कि ईसाई धर्म मे भी कुछ समुदाय ऐसे भी है जो RIP शब्द का विरोध करते है। इतना ही नही उत्तरी आयरलैंड ने तो 2017 मे ही इस RIP शब्द को पुरी तरह से बैन कर दिया है और लोगो से कहा कि कृपया इस RIP शब्द का आह्वाहन बिल्कुल भी ना करे।

जानकारो के अनुसार इस शब्द का प्रयोग सिर्फ प्रार्थना के लिए कहा गया है। इसके साथ ही ऐसे कई धार्मिक पुस्तक भी है जो इसकी जरूरत को बिलकुल भी महत्वता नही देते है। इस बात से तो यह साफ जाहिर है कि इस लिहाज से इस RIP शब्द का इतना ज्यादा इस्तेमाल करना सही नही है। एक बार BBC Radio Program मे Evangelical Protestant Society के सचिव ने कहा था कि हर प्रोटेस्टेंट को इस शब्द का प्रयोग नही, प्रत्येक लोगो को प्रोत्साहित करना चाहिए। वह इसे Bible के सिद्धांतों के Against मानते है।

RIP शब्द के कुछ अन्य Full Form निम्नलिखित है। –

दोस्तो नीचे हमने RIP शब्द के और भी Full Form के बारे मे बताया है जो कि अलग-अलग क्षेत्रो से संबंधित है।

  • Routing Information Protocol – Technology से संबंधित
  • Raster Image Processer – Technology से संबंधित
  • Regulation of Investigatory Powers – Law & Legal Works से संबंधित
  • Refractive Index Profile – Technology से संबंधित
  • Research in Progress
  • Recovery Is Possible
  • Really Inspirational People
  • Return If Possible
  • Regular Investment Plan
  • Retirement Income Plan
  • Read in Private
  • Request in Process
  • Rapid Install Package
  • Remote Indicator Panel
  • Rate Image Processor
  • Rapid Installation Plan/Phase
  • Rough-In Point

ये भी जरूर पढ़े:

दोस्तों आज की Post में हमने आपको जानकारी दी RIP और RIP Full Form In Hindi क्या है? RIPशब्द का इस्तेमाल कब किया जाता है तथा इस शब्द से जुडी अन्य जानकारी। मैं आशा करती हु की आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई होगीऔर आपको RIP से जुड़े सारे सवालों के जवाब भी मिल गए होगे। आपको हमारा ये Post कैसा लगा हमे जरुर बताएं। साथ ही अगर आपके पास इस विषय से जुड़ी कोई सवाल या जिज्ञासा है तो आप तो आप निचे कमेंट करके पूछ सकते है। ऐसे ही और जानकारी वाले लेख पढ़ने के लिए हमारी वेबसाइट से जुड़े रहिये।