Home Computer RAM क्या है? RAM की पूरी जानकारी हिंदी में

RAM क्या है? RAM की पूरी जानकारी हिंदी में

ram full form

आप में से कई लोग बाजार में जब भी नया Smartphone खरीदने जाते हैं तब सबसे पहले यही पूछते हैं कि उस मोबाइल फोन की RAM कितनी है? जिससे आपको भविष्य में मोबाइल के Hang होने या Slow चलने जैसी Problem का सामना ना करना पड़े। सभी यह जानते है कि ज्यादा RAM वाले मोबाइल फोन ज्यादा महंगे होते हैं। लेकिन ऐसे भी कई लोग हैं जिन्हें RAM के बारे में पूरी जानकारी नहीं है। यही वजह है कि हम आपकी मदद के लिए यह लेख लेकर आए हैं जिसमें हम आपको बताएंगे RAM Full Form क्या होता है? RAM क्या होता है? तथा RAM से जुड़े अन्य जानकारियों के बारे में। अगर आप भी RAM के बारे में जानना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को जरूर पढ़ें।

RAM Full Form क्या है?

RAM Full Form in English “Random Access Memory” होता है, इसका दूसरा नाम “Direct Access Memory” है। RAM मोबाइल या फिर किसी Computer or Machine का बहुत महत्वपूर्ण भाग होता है, आइये जानते है राम के बारे में और अधिक जानकारी।

RAM क्या है?

कई लोगों के मन में यह सवाल होगा कि RAM क्या होता है? RAM को समझने के लिए एक उदाहरण का सहारा ले सकते हैं। मान लीजिए, आप क्रिकेट खेलना पसंद करते हैं, क्रिकेट के लिए आपको बड़ी जगह की जरूरत होती है यानी कि आप इसे घर के अंदर या चारदीवारी में नहीं खेल सकते। बल्कि इसे आप किसी Playground या गली में खेलेंगे। आपको खेल में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए बड़ी जगह की जरूरत होती है। इसी तरह से मोबाइल या फिर Computer को अच्छे से काम करने के लिए तथा मोबाइल में Application और Laptop में Software अच्छे से Run कराने के लिए RAM जरूरी होता है।

ram full form in hindi
RAM Full Form

RAM आपको Computer, Mobile या Laptop में देखने को मिल सकता है, यह किसी भी Electronic Device का एक महत्वपूर्ण अंग होता है। जब किसी भी Computer या Laptop में Keyboard के जरिए कोई भी डाटा Input किया जाता है तो वह सबसे पहले RAM में संग्रहित होता है। फिर बाद में CPU i.e. Central Processing Unit वहां से उस डाटा को प्राप्त करता है। आसान शब्दों में समझें तो मान लीजिए आप कोई Movie देखते हैं, यह Movie पहले आपके Memory Card में होता है जिसे CPU, Memory कार्ड से निकालकर RAM में Play करता है। यदि आप एक साथ कई सारे Applications चलाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको ज्यादा RAM की जरूरत होगी। अगर आपका RAM पूरी तरह से occupied हो जाएगा तो ऐसे में आपका मोबाइल Slow चलने लगेगा या फिर Hang करने लगेगा। इसीलिए मोबाइल को अच्छे से चलाने के लिए उसके RAM को खाली रखना जरूरी होता है।

हालांकि, RAM में सुरक्षा डाटा Computer के बंद हो जाने या फिर विद्युत बाधित होने की वजह से गायब भी हो सकते हैं इसीलिए RAM को अस्थायी Memory या फिर वोलेटाइल (Volatile) के नाम से भी जाना जाता है।

किसी भी Device में RAM जितनी ज्यादा होती है। उसका उतना फायदा आपको मिलता है क्योंकि RAM से ही आप एक साथ कई चीजें आसानी से चला सकते हैं। अब आते हैं मोबाइल के RAM i.e. Random Access Memory (RAM Full Form) पर, मोबाइल Devices में RAM का कार्य थोड़ा भिन्न होता है। मोबाइल Device में आपके द्वारा जब कोई भी Application रन किया जाता है तो वह सबसे पहले RAM में ही Load की जाती है फिर बाद में जाकर वह Execute होती है। यही वजह है कि कई बार आपको Recently Used Apps Screen पर नजर आते हैं।

RAM की विशेषताएं | Characteristics Of RAM

  • RAM के बिना कोई भी Computer Work नहीं कर सकता।
  • वही RAM अगर कम हो तो मोबाइल के Apps Slow चलेंगे।
  • RAM CPU के लिए बेहद खास माना जाता है।
  • Memory के कई प्रकार हैं जिनमें से RAM उसका एक प्रकार माना जाता है। इसे प्राथमिक Memory कहा जाता है। RAM अन्य Memory की तुलना में थोड़ा महंगा होता है।
  • Secondary Memory के मुकाबले RAM की Capacity कम होती है।

RAM के प्रकार | Types Of RAM

हमने जाना RAM की विशेषताएं क्या होती है। आप जानते हैं RAM कितने प्रकार के होते हैं? जी हां, RAM के भी दो प्रकार होते हैं। आइए जानते हैं दोनों को:-

SRAM (Static RAM)

SRAM यानी कि “Static Random Access” इसमें Static का मतलब होता है, ‘स्थिर’। यानी कि जब तक इसमें बिजली आती है तब तक इसमें डाटा रहता है। इस तरह के RAM में डाटा रहता है जिस वजह से Computer को उन्हें बार-बार Refresh करने की आवश्यकता नहीं होती। इस तरह के RAM में डाटा तब तक रहता है जब तक की बिजली की आपूर्ति होती है। जैसे ही बिजली की कमी होती है, वैसे ही इस RAM का डाटा गायब हो जाता है।

SRAM की विशेषताएं

  1. इसकी सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इसे बार-बार Refresh करना नहीं पड़ता।
  2. यह अन्य प्रकारों की तुलना में तेज होती है।
  3. इसका इस्तेमाल Cache Memory के बतौर किया जाता है।
  4. अन्य के मुकाबले यह महंगी होती है।
  5. इसको Work करने के लिए ज्यादा Power की आवश्यकता होती है।

DRAM (Dynamic RAM)

DRAM यानी कि “Dynamic Random Memory” इसमें Dynamic का अर्थ है ‘चलायमान’ यानी कि जिस Memory को बार-बार Refresh करने की जरूरत पड़ती हो। आइए जानते हैं कि DRAM की क्या विशेषताएं होती है?

DRAM की विशेषताएं

  • इस तरह के RAM का Size कम होता है।
  • यह SRAM के मुकाबले सस्ती होती है।
  • तथा इसमें कम पावर की आवश्यकता होती है।
  • इसको बार-बार Refresh करने की जरूरत होती है।

RAM के क्या फायदे होते हैं?

मोबाइल फोन या फिर Computer में RAM (Random Access Memory i.e. RAM Full Form) होने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आपके पास जितनी ज्यादा RAM होगी, आप उतने ही ज्यादा कार्यों को एक साथ कर सकेंगे। अगर आपकी RAM बहुत ही कम है तो उससे आपका मोबाइल या फिर Computer काफी Slow चलेगा तथा यह बार-बार Hang होगा। लेकिन वही यदि आपका RAM काफी ज्यादा है तो आप तीव्रता से अपने मोबाइल के Application व Software का इस्तेमाल कर पाएंगे।

Software Engineer कैसे बने?

ऐसे में हम कह सकते हैं कि ज्यादा RAM यानी कि ज्यादा कार्य क्षमता। आपने देखा होगा अक्सर 2GB RAM वाले मोबाइल फोन 4GB या फिर 6GB RAM वाले मोबाइल फोन की तुलना में काफी Slow चलते हैं। इस तरह के मोबाइल में जब आप कोई भी Application ओपन करते हैं तो इसमें भी काफी ज्यादा टाइम लगता है। ऐसे में जब भी कोई मोबाइल फोन खरीदे तो उसके RAM का ध्यान रखते हुए खरीदें।

निष्कर्ष (Conclusions):

आज इस लेख में हमने जाना कि RAM क्या होता है? RAM Full Form क्या होता है? RAM के लाभ, RAM की क्या विशेषता है। RAM के प्रकार आदि आदि। हमने आपको RAM से जुड़ी सारी जानकारी देने का हर संभव प्रयास किया है। अगर आप इसके अलावा कोई और जानकारी जानने को इच्छुक हैं, तो हमें Comment Section में बताएं। अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे अपने दोस्तों के साथ इसे शेयर करना ना भूले।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here