ITC क्या है? ITC के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में

0
279
itc full form

ITC लिमिटेड देश की एक जानी-मानी कंपनी है जिससे लगभग भारत की पूरी आबादी जुड़ी हुई है। भारत में इसके काफी ज्यादा ग्राहक है जो इसके Products का इस्तेमाल कर रहे हैं। इन Products में Food, Personal Care, Cigarette, Hotel, एग्रीबिजनेस जैसे कई बड़े नाम शामिल है। इस कंपनी की शुरुआत 24 अगस्त 1910 में तंबाकू कंपनी के रूप में हुई थी और आज यह देश की सबसे बड़ी कंपनी बन चुकी है। इसे सबसे बड़ी डायवर्सिफाइड कंपनी भी कहा जाता है। क्या आपको पता है की ITC क्या है और ITC Full Form क्या है, अगर नहीं तो इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े।

ITC में Diversification को लाने में योगेश चंद्र देवेश्वर का नाम प्रमुखता से लिया जाता है जो कि इसके पूर्व चेयरमैन रह चुके हैं। उनके कार्यकाल के दौरान ही ITC कि आय 5200 करोड़ से बढ़कर 51,500 करोड़ रुपए पहुंच गई। लेकिन बहुत से लोग ITC के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं रखते। उन्हें यह नहीं पता होता कि ITC का फुल फॉर्म क्या है? ITC से क्या है? तथा ITC के कर्मचारी कितने हैं? इन सभी प्रश्नों का उत्तर आज हम आपको इस आर्टिकल में देंगे, तो चलिए जानते हैं ITC से जुड़ी संपूर्ण जानकारी हिंदी में:-

ITC Full Form क्या है?

ITC Full Form “Imperial Tobacco Company” होता है। वहीं ITC Full Form In Hindi ‘इंपीरियल टोबैको कम्पनी ऑफ इंडिया’ होता है। वर्तमान में इसे ITC लिमिटेड के नाम से जाना जाता है।

ITC क्या है?

ITC भारत की एक तंबाकू कंपनी है जिसका गठन साल 1910 में अंग्रेजी तंबाकू कंपनी इंपीरियल द्वारा किया गया था। इसका मुख्यालय पश्चिम बंगाल के कोलकाता में मौजूद है। इसके साथ ही ITC ने सिगरेट, FMCG प्रोडक्ट्स, होटल, Packaging, पेपर बोर्ड तथा कृषि व्यवसाय से जुड़े उद्योगों में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई है। यह कंपनी 90 देशों में अपने उत्पादों का निर्यात कर रही है। ITC ने बाजार में अपनी साख मजबूत की है। वर्तमान समय में यह भारत के साथ अलग-अलग जगहों में करीब 36,500 कर्मचारियों को रोजगार उपलब्ध कर रहा है। इसकी उपलब्धियों को देखते हुए इसे Forbes पत्रिका में शामिल किया गया था।

साल 1910 में इसे इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया लिमिटेड के नाम से जाना जाता था। हालांकि, कुछ समय बाद यानी कि 1970 में इसका नाम बदलकर इंडियन टोबैको कंपनी लिमिटेड कर दिया गया। आगे जाकर 1974 में फिर इसके नाम में परिवर्तन किया गया और इसे ITC लिमिटेड बनाया गया। 2001 में इसके नाम में अंतिम बार परिवर्तन किया गया, अब इसे ITC एलटीडी के नाम से जाना जाता है।

ITC का इतिहास

साल 1910 में इस कंपनी की शुरुआत इंपीरियल टोबैको कंपनी ऑफ़ इंडिया लिमिटेड के नाम से की गई। यह उस दौरान कोलकाता में पंजीकृत एक ब्रिटिश स्वामित्व वाली कंपनी मानी जाती थी और उस समय यह कंपनी सिर्फ कृषि संसाधनों पर ही निर्भर थी। इसने 1913 में अपनी पहली सिगरेट फैक्ट्री बेंगलुरु में स्थापित की। आगे जाकर 27 अक्टूबर 1954 को इसे एक पब्लिक लिमिटेड कंपनी में तब्दील किया गया। 1960 में ITC ने स्वयं सिगरेट बनाने के उद्देश्य से मशीनरी, फिल्टर रोड निर्माण सुविधाओं की स्थापना की तथा अपनी प्रौद्योगिकी में ज्यादा ध्यान देना शुरू किया।

1969 में कंपनी के पहले भारतीय अध्यक्ष को नियुक्त किया गया जो कि अजीत नारायण हास्कर थे। जब उन्हें अध्यक्ष पद पर नियुक्त किया गया तो इस कंपनी का नाम इम्पीरियल टोबैगो कंपनी ऑफ इंडिया लिमिटेड से बदलकर इंडियन टोबैको कंपनी लिमिटेड किया गया। इस तरह ITC भारत की पहली कंपनी मानी गई।

साल 1996 में जाकर वाईसी देवेश्वर इस कंपनी के अध्यक्ष बने। जिनके कार्यकाल के दौरान इस कंपनी ने काफी प्रगति की। समय के साथ इस कंपनी में कई अध्यक्ष आए और गए वर्तमान समय में संजीव पुरी इसके अध्यक्ष हैं।

ITC कौन से उत्पाद तैयार करती है?

ITC के नाम से लोगों को लग सकता है कि यह सिर्फ तंबाकू का निर्माण करती है। हालांकि यह तंबाकू के अलावा कई तरह के खाद्य पदार्थों, परिधानों और ब्रांड का भी उत्पादन करती है। आइए जानते हैं इन्हें:-

  • खाद्य पदार्थ : ITC Full Form, Imperial Tobacco Companyद्वारा कई नामी-गिरामी उत्पादों का निर्माण किया जाता है जिनमें Sunfeast,  Bingo, Ashirvad प्रमुख है। इसके अलावा यह रेडी टू ईट फूड, स्नैक्स का भी निर्माण करता है।
  • अगरबत्ती : इस कंपनी के द्वारा मैगल डीप अगरबत्ती का निर्माण किया जाता है।
  • सूचना प्रौद्योगिकी से संबंधित उत्पाद : यह सूचना और प्रौद्योगिकी से संबंधित कंपनी का संचालन करती है।
  • पैकेज और प्रिंटिंग : यह बाजार में निर्यात करने के लिए पैकेजिंग और प्रिंटिंग सेवाएं भी प्रदान करती है।
  • स्टेशनरी का सामान : यह स्टेशनरी के कई महत्वपूर्ण ब्रांड भी तैयार करता है जिनमें Classmate, Colour Paper, Craft आदि शामिल है।
  • पर्सनल केयर के उत्पाद : रोजाना इस्तेमाल के उत्पाद जैसे की परफ्यूम, बॉडी केयर, हेयर केयर का निर्माण भी इसी कंपनी द्वारा किया जाता है।
  • सिगरेट : ITC लिमिटेड कि भारत में सिगरेट के उत्पादन की हिस्सेदारी 80 फ़ीसदी है। भारत में बड़ी मात्रा में लोग सिगरेट और तंबाकू उत्पाद खाते हैं। यही वजह है कि इसका बाजार मूल्य 35000 करोड़ है।

ITC के कर्मचारी

ITC के सबसे लोकप्रिय चेयरमैन योगेश्वर चंद्रदेव ईश्वर हैं जिन्हें सरकार से पद्मा विभूषण हासिल हो चुका है। ITC की सफलता में योगेश्वर चंद्रदेव ईश्वर या वाई सी देवेश्वर का काफी महत्वपूर्ण योगदान है। उन्हीं की वजह से आज हर घर में सिगरेट बनाने वाली इस कंपनी ने अपनी पहुंच सुनिश्चित की है। लेकिन साल 2019 में 72 साल की उम्र में उनका निधन हो गया।

ITC के वर्तमान मुख्य अध्यक्ष का नाम संजीव पुरी है।

इसके अलावा साल 2009 से 2011 के बीच अमेरिका में भारतीय राजदूत मीरा शंकर ने साल 2012 में ITC लिमिटेड के बोर्ड में महिला निदेशक के रूप में कार्य करना शुरू किया। वह इस कंपनी की अतिरिक्त गैर कार्यकारी निर्देशक हैं।

कंपनी के वार्षिक रिपोर्ट के आधार पर ITC में 30 मार्च 2020 तक 28,000 से ज्यादा कर्मचारी कार्यरत थे।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल (F.A.Q)

Q.1 ITC कंपनी की स्थापना कब हुई?

Ans. ITC कंपनी की स्थापना साल 1910 में भारत के पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में हुई।

Q.2 ITC कंपनी का मुख्यालय कहां स्थित है?

Ans. इस कंपनी का मुख्यालय भी बंगाल के कोलकाता में स्थित है।

Q.3 ITC कंपनी की ओनरशिप किसके हाथों हैं?

Ans. इस कंपनी का ओनर और शेयर धारक public Limited Company है।

Q.4 ITC कंपनी कौन-से देश की है?

Ans. यह कंपनी भारत की तंबाकू निर्माता कंपनी है। यह तंबाकू के अलावा भी कई अन्य उत्पादों का निर्माण करती हैं।

Q.5 ITC कंपनी के CEO का नाम क्या है?

Ans. ITC कंपनी में 5 फरवरी 2017 को संजीव पुरी ने CEO के रूप में पदभार संभाला था। वर्तमान समय में वहीं इस कंपनी के CEO है।

ये भी जरूर पढ़े:

निष्कर्ष (Conclusions) :

तो दोस्तों इस पोस्ट के जरिए हमने जाना कि ITC Full Form क्या है? ITC क्या होता है? तथा ITC का इतिहास और ITC के प्रमुख उत्पादों के बारे में है। इस पोस्ट को पढ़ने के बाद भी अगर आपके मन में ITC से संबंधित कोई भी प्रश्न हो तो हमें Comment Section में पूछे। Post अच्छा लगा हो तो इसे सोशल नेटवर्किंग साइट्स में Share करना ना भूलें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here