GK Tricks In Hindi: Easy Tricks To Learn GK

0
938
gk-tricks to learn General Knowledge

दोस्तों याद ना कर पाना हर एक इंसान की समस्या होती है और हर विद्यार्थी को भी इस समस्या का सामना करना पड़ता है | यदि आप भी उन लोगो में से हो जिनके लिए किसी के बारे याद रखना उतना आसान नहीं होता जितना दूसरे कर पाते है | इस पोस्ट के माध्यम से मैं आपको एक तरीका बताने वाला हूँ ( GK Tricks In Hindi) जिस की मदद से आप कुछ भी याद करने में सक्षम हो जायेंगे |

GK Tricks For History

Table of Contents

जहांगीर के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी

जहांगीर अकबर के पुत्र थे जो अकबर के बाद मुग़ल वंश की गद्दी पर बैठे | जहांगीर का असली नाम सलीम था लेकिन उनको मोहमद जहांगीर के नाम से बादशाह बनाया गया |दोस्तों आपको सिर्फ निचे दिया गया वाक्य को याद करना है और उसकी मदद से आप कितना कुछ जान पाएंगे वो आप खुद देख लीजिये |

JaNu AaJ क्यों चिल्लाई

Ja: जहांगीर

Nu: नूरजहां से शादी

Aa: आगरा में राज्याभिषेक (1605)

J: न्याय के लिए सोने की जंजीर लगवाई

क्यों: कश्मीर में सुन्दरबाग़ बनवाया

ची: चित्रकला का स्वर्णयुग

ला: लाहौर में सुन्दरबाग

यी: यमुना किनारे न्याय की जंजीर

दिल्ली सल्तनत के वंश

1206 से 1526 के समय को सल्तनत काल कहा जाता है | इस समय में किस किस वंश ने दिल्ली पर शासन किया, आज की इस पोस्ट में हम उनके बारे में जानकारी प्राप्त करने वाले है |

गुल खिले तुम शायद लोगे

गुल: गुलाम वंश (1206-1290)

खिले: खिलजी वंश (1290-1320)

तुम: तुग़लक़ वंश (1320-1398)

शायद: सैय्यद वंश (1398-1451)

लोगे: लोधी वंश (1451-1526)

सिक्खो के दस गुरुओं के नाम

गुरु नानक देव जी ने सिख धर्म के पहले गुरु है जिन्होंने सिख धर्म की स्थापना की है | ऐसे ही सिक्खों के 10 गुरु रहे है, एक आसान ट्रिक को बताया गया है जिसकी मदद से आप सिक्खो के दस गुरुओं के नाम आसानी से याद रख सकते है |सिक्खो के दस गुरुओं के नाम याद करने के लिए आपको निचे दिए गए वाक्य को याद रखना है |

नानक अंगदान करके अमर हो गए और राम के पास चले गए लेकिन अर्जुन ने गोविन्द की राय ली और कितनी बहादुरी से खुद गोविन्द बन गए

नानक: गुरु नानक देव

अंगदान: गुरु अंगद

अमर: गुरु अमरदास

राम: गुरु रामदास

अर्जुन: गुरु अर्जुन

गोविन्द: गुरु हरगोविंद

राय: गुरु हर राय

कितनी: गुरु हरकिशन

बहादुरी: गुरु तेग बहादुर

गोविन्द: गुरु गोविन्द सिंह

भारत में युरोपीय कंपनियो का आगमन

यूरोप से भारत तक के समुंद्री रास्ते की खोज वास्को डी गामा ने की थी | 17 मई 1498 को वास्को डी गामा कालीकट बंदरगाह पर भारत आया और वहां के हिन्दू शासक ज़मोरिन ने उनका स्वागत किया था | सबसे पहले पुर्तगाली भारत में आये और उसके बाद अन्य युरोपियन कम्पनिया भारत में आई |

पुत्र अडा डैड फसा

पुत्र – पुर्तगाली (1498)

अ – अंग्रेज (1600)

डा – डच (1602)

डैड – डैनिस (1616)

फ – फ्रांसीसी (1664)

सा – स्वीडिश (1731)

लार्ड इरविन के समय में हुए कार्य और आंदोलन

भारत में लार्ड इरविन का शासनकाल 1926 से लेकर 1931 तक रहा | लार्ड इरविन के समय में कौन-कौन से आंदोलन उभर कर सामने आये और गाँधी और इरविन के बिच समझौता क्यों हुआ था वो सब इस पोस्ट में वर्णित की गई है |

साई शारदा ने गांधी के बाल का नस खोजा

साई: साईमन कमीशन का आगमन (1928)

शारदा: शारदा एक्ट ( 1929 )

गांधी: गांधी इरविन समझौता ( 1931 )

बा: बारदोली सत्याग्रह (Oct 1928)

ल: लाहौर षणयंत्र केस (1929)

न: नमक सत्याग्रह (1930)

स: सविनय अवज्ञ आंदोलन (1930)

गाँधी इरविन समझौता (1931) : दोस्तों इस बात को ब्रिटिश समझ चुके थे की कांग्रेस के बिना कोई भी फैसला लेना संभव नहीं है | द्वितीय गोलमेज सम्मेलन से पहले गाँधी जी और लार्ड इरविन के बिच एक समझौता हुआ जिसको गाँधी-इरविन समझौते के नाम से जाना जाता है |

इस समझौते के अनुसार लार्ड इरविन ने कुछ शर्ते स्वीकार स्वीकार की जो इस प्रकार है :

  • सभी राजनीतिक बन्दियों को रिहा कर दिया जाएगासिर्फ उनको बंधी रखा जायेगा जो हिंसा के आरोपी है |
  • भारतीयों को समुद्र किनारे नमक बनाने का अधिकार दिया जाएगा।
  • भारतीय शराब एवं विदेशी कपड़ों की दुकानों के सामने धरना दे सकते हैं।
  • आन्दोलन के दौरान जिन भारतीयों ने त्यागपत्र दिया है उनको पुनः उनके पदों पर बहाल किया जायेगा।
  • आन्दोलन के दौरान जब्त सम्पत्ति भी वापिस लौटा दी जाएगी |

इस समझौते में कांग्रेस की भी गाँधी जी से कुछ शर्ते थी जो इस प्रकार है :

  • सविनय अवज्ञा आन्दोलन को रोक जाएगा।
  • कांग्रेस द्वितीय गोलमेज सम्मेलन में भाग लेगी।
  • कांग्रेस ब्रिटिश सामान का बहिष्कार नहीं करेगी।
  • गाँधीजी पुलिस की ज्यादतियों की जाँच की माँग छोड़ देंगे।

लार्ड कर्जन द्वारा किए गए कार्य

लार्ड कर्ज़न का कार्यकाल भारत में बतौर वायसराय 6 जनवरी 1899 से 18 नवंबर 1905 तक रहा | लार्ड कर्जन का पूरा नाम जॉर्ज नथानिएल कर्जन था | लार्ड कर्ज़न ने भारत के हित में बहुत सारे काम किये लेकिन उनकी नीतिया किसी को पसंद नहीं आई |

पुरा विश्व अकाल, पुलिस बना सिचाई हाँल

पुरा: पुरातत्व विभाग का गठन

विश्व: विश्वविद्दालर आयोग का गठन

अकाल: अकाल आयोग का गठन

पुलिस: पुलिस आयोग का गठन

बना: बँगाल विभाजन

सिचाई: सिचाई आयोग का गठन

हाँल: विक्टोरिया मेमोरियल हाँल का निर्माण

भारत के प्रथम गवर्नर, गवर्नर जनरल और वायसराय

जैसा हम जानते है की भारत कई वर्षो तक अंग्रेजी शासन के अधीन रहा और उस समय अलग अलग तरीके से भारत देश पर शासन किया गया | समय के साथ साथ अंग्रेजी शासन के पद और नीतियों में बदलाव देखे गए | भारत के प्रथम गवर्नर, गवर्नर जनरल और वायसराय को याद रखने के लिए आपको बस नीचे दिए गए वाक्य को याद रखना है

राबर्ट है विलियम की मौसी

राबर्ट : राबर्ट क्लाइव – बंगाल का प्रथम गवर्नर

है: हैंस्टिग – बंगाल का प्रथम गवर्नर जनरल

विलियम: विलियम बैंटिक – भारत का पहला गवर्नर जनरल

की: कैनिंग – भारत का पहला वायसराय

मौ: माउंटबेटन -स्वतंत्र भारत का पहला गवर्नर जनरल

सी: सी.राजगोपालाचारी – स्वतंत्र भारत का पहला भारतीय गवर्नर जनरल

आर्मी (Army) भर्ती की तैयारी कैसे करें? जानिये हिंदी में…

अकबर के शासनकाल में नवरत्न

अकबर मुग़ल साम्राज्य का तीसरा शासक था | अकबर के शासनकाल में मुग़ल साम्राज्य एक शक्तिशाली साम्राज्य था | मुग़ल शासको में अकबर का शासन ही ऐसा था जिसके हिन्दू और मुसलमानों को बराबर का सम्मान और प्यार मिला | नीचे दिए गए GK Tricks In Hindi को याद करने के लिये आप सोचिये कि MDH मसाले बाले चाचाजी के पास एक बैट (BAT) है जिससे वो मसाला कूटते हैं |

BAT BAT MDH

B: Birbal (बीरबल )

A: Abul Fazal ( अबुल फजल )

T: Tansen ( तानसेन )

B: Bhagvandas (भगवान दास)

A: Abdul Rahim Khane Khana (अब्दुल रहीम खाने खाना )

T: Todarmal (टोडरमल )

M: Manshingh (मानसिंह)

D: Do Pyaja Mulla (मुल्ला दो प्याजा)

H: Hakim Hukkam (हकीम हुक्काम)

GK Tricks For Indian Geography

gk tricks in hindi
GK Tricks In Hindi

बंगाल की खाड़ी में गिरने वाली भारत की प्रमुख नदियाँ

दोस्तों भारत एक नदियों का देश है | गंगा नदी को भारत की पवित्र नदी माना गया और इसको माता के सामान पूजा जाता है | दोस्तों मैं यह पर एक आसान ट्रिक बताने जा रहा हूँ जिसकी मदद से आप बंगाल में गिरने वाली भारत की प्रमुख नदियों को आसान से याद रख सकते है |

ब्रह्मा की गोद में गंगा

ब्रह्मा: ब्रह्मपुत्र

की: कृष्णा, कावेरी

गोद: गोदावरी

में: महानदी

गंगा: गंगा

अरब सागर में गिरने वाली भारत की नदियाँ

आपको बस निचे दिया गया वाक्य को याद रखना है फिर आप भारत की उन नदियों के बारे में आसानी से बता सकते है जो अरब सागर में जाकर मिलती है |

सालू की माँ भानमती सोजा

सा: साबरमती

लू: लूनी

माँ: माहि / मांडवी

भा: भारतपुझा

न: नर्मदा

सो: सोम

जा: जाखम / जवाई

म्यांमार से सटे हुए भारतीय राज्य

म्यांमार कभी बर्मा के नाम से जाना जाता था और 89% फीसदी जनता यहाँ बौद्ध धर्म को मानती है | यहाँ की आधे से ज्यादा लोग खेती पर निर्भर है और चावल यहाँ की मुख्या खाद्य फसल है |