SDM कैसे बने? योग्यता, सैलरी और परीक्षा के बारे में जानकारी

sdm full form in hindi

दोस्तों वर्तमान समय में हर एक व्यक्ति एक सफल कार्य करना चाहता है और सभी एक अच्छी नौकरी और एक अच्छे पद की कामना करते हैं। लेकिन यह कहना जितना आसान है उसे पाना उतना ही कठिन है। वर्तमान समय में प्रतिस्पर्धा इतनी ज्यादा बढ़ गई है कि किसी भी क्षेत्र में रोजगार पाना बहुत कठिन हो गया है आज ऐसे ही हम एक पद के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके अनुमति के बिना कोई काम नहीं होता। जी हां हम SDM पद के बारे में बात कर रहे हैं, क्या आपको पता है SDM Full Form In Hindi क्या है? एक SDM के पद को हासिल करने के लिए किस परीक्षा को पास करना होता है। अगर आपको इन सब के बारे में जानकारी नहीं है तो यह लेख आपके लिए है। आज के इस लेख में हम आपको बताने वाले है SDM पद को प्राप्त करने के लिए क्या Qualification होनी चाहिए, Age Limit क्या होनी चाहिए और उसके बाद आपको किस परीक्षा में भाग लेना पड़ता है।

यह कोई ऐसा वैसा पद नहीं है क्यूंकि अधिकतर सरकारी काम को करवाने के लिए SDM की अनुमति की जरूरत पड़ती है। जीवन में सभी कामयाब होना चाहते हैं पर हर किसी की रुचि अलग-अलग होती है, सबके सपने अलग-अलग होते हैं, कुछ डॉक्टर, कुछ वकील, कुछ पुलिस आदि बनना चाहते हैं। भारत की जनसंख्या जितनी तेजी से बढ़ रही है वहीं सरकारी नौकरी पाने के लिए प्रतिस्पर्धा बहुत बढ़ती जा रही है। एक SDM के पद को पाना उतना आसान नहीं है, लेकिन मेहनत और लगन से सब संभव हो सकता है। अगर आप समाज मेंअपनी प्रतिष्ठा में चार चाँद लगाना चाहते है तो उसके लिए SDM पद को हासिल करना काफी होगा। तो चलिए आगे बढ़ते है और जानकारी प्राप्त करते है SDM पद के बारे में।

SDM Full Form In Hindi

SDM का Full Form ‘Sub Divisional Magistrate’ होता है और SDM Full Form In Hindi है “उप प्रभागीय न्यायाधीश”। दोस्तों अब हम SDM की Full Form से तो अवगत हो गए है लेकिन हमारे लिए ये जानना भी जरूरी हो जाता है की SDM होता क्या है।

SDM क्या होता है?

SDM यानि कि एक Sub Divisional Magistrate, एक बहुत ही उच्च स्तर का सरकारी अधिकारी होता है। यह राज्य प्रशासनिक सेवा में सबसे ऊंचा पद होता है। हर राज्य के जिलों को कई भागों में बांटा जाता है और प्रत्येक खंडों का नेतृत्व SDM करता है। हर उपखंड में तहसील होता है और SDM का तहसील के तहसीलदार के ऊपर सीधा नियंत्रण होता है। बहुत सारे सरकारी काम SDM की अनुमति के बिना संभव नहीं होते। SDM को जिम्मेवारी के साथ साथ सरकार की तरफ से अलग-अलग सुविधाएँ भी दी जाती है। एक SDM पद की सैलरी भी अच्छी होती है और समाज में उसका मान सम्मान भी उच्च दर्जे का रहता है। अतः बहुत सारे नौजवान SDM बनने का सपना देखते है लेकिन कुछ ही अपने सपने को पूरा कर पाते है।

sdm full form in hindi
Sub-Divisional Magistrate

SDM के कार्य

दोस्तों SDM जितना अच्छा पद है उसके साथ-साथ जिम्मेवारी भी बहुत होती है। अब हम आपको कुछ मुख्य कार्य बताने वाले है जो एक SDM करता है

  • एक SDM सब डिवीजन में चल रही विभिन्न विकास गतिविधियों का इंचार्ज होता है और सारे काम उसकी देख-रेख में चलते है।
  • विभिन्न विभागों के काम में समन्वय के लिए भी सद्म जिम्मेवार होता है। एक सद्म अपने क्षेत्र में चल रही विकास गतिविधियों पर नजर रखने के लिए क्षेत्र का भ्रमण करता है और राजस्व प्रशासन के साथ-साथ अपने उप प्रभाग में कानून और व्यवस्था की स्थिति पर भी नज़र रखता ह।
  • इसके अलावा आम जनता की शिकायतों को सुनना एवं उनका समाधान करने का कार्य भी एक सद्म का होता है।
  • प्राकृतिक आपदाओं से उत्पन्न होने वाली समस्याओं को दूर करने का कार्य भी SDM का होता है।
  • SDM का मुख्य कार्य अपने क्षेत्र के सभी भूमिगत कार्य को कराना होता है इसके अलावा भी बहुत सारे क्षेत्र SDM Officer के अधिकार में आते हैं।
  • उप प्रभागीय न्यायाधीश यानी SDM के अंतर्गत Marriage Registration, Vehicles Registration, चुनाव का काम, राजस्व समारोह, हथियार लाइसेंस, राजस्व कामकाज और ST, SC, OBC और Domicile, जाति प्रमाण पत्र जारी कराना आदि कार्य आते हैं।
  • अगर आसान शब्दों में कहा जाए तो वह मुख्य रूप से अपने अधिकार क्षेत्र में होने वाली हर चीज के लिए जिम्मेदार है और उसके पास अपने फैसले लेने का पूर्ण अधिकार होता है।

SDM कैसे बने


दोस्तों जैसा कि हमने आपको बताया कि SDM पर प्रशासनिक सेवा के कुछ उच्च High Rank पदों में से एक है। समाज में SDM की अलग ही प्रतिष्ठा और सम्मान है। हर राज्य में SDM के चयन के लिए प्रशासनिक सेवाओं में परीक्षा आयोजित किया जाता है। SDM पद प्राप्त करने के लिए दो तरीके हैं।

1 – UPSC – Union Public Service Commission

उच्च प्रभागीय न्यायाधीश यानी SDM बनने के लिए पहला तरीका है UPSC की परीक्षा Clear करना, इसके लिए आपका Graduate होना आवश्यक है। आप किसी भी विषय से हो लेकिन Graduation पूरा होना चाहिए। फिर आपको UPSC की परीक्षा पास करना होता है, यदि आप परीक्षा उत्तीर्ण कर लेते हैं तो IAS Officer शुरुआत में SDM की Post मिलती है और कुछ सालों के बाद वह DM बन सकते हैं।

2 – State PSC Exam

SDM बनने के लिए दूसरा तरीका State PSC Exam एग्जाम को Clear करना होता है, इसके लिए भी आपका Graduate होना जरूरी है। यदि State PSC Exam देने के उपरांत आप Top Rank में आते हैं तो आपको Training के बाद SDM बन सकते हो, कुछ सालों बाद यदि आपका Promotion होता है तो आप DM बन सकते है।

SDM हेतु Age Limits

दोस्तों SDM बनने के लिये सरकार के द्वारा प्रत्येक Category के लिए Age Limit निर्धारित जो की गयी है जो इस प्रकार है।

1. सामान्य वर्ग: 21 – 35
2. पिछड़ा वर्ग: 21 – 40
3. अनुसूचित वर्ग और जनजाति: 21 – 45

SDM हेतु शैक्षणिक योग्यता

दोस्तों अगर आप भी Sub Divisional Magistrate बनना चाहते है तो उसके लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त University/Collage से Graduate होना अनिवार्य है। Graduation करने के बाद ही आप SDM Exams में शामिल हो सकते है।

SDM के Exam Pattern

दोस्तों, अगर इसके Exams के Pattern के बारे में बात करें तो इसे तीन मुख्य भागों में बांटा गया है।

1. प्रारंभिक परीक्षा
2. मुख्य परीक्षा
3. साक्षात्कार

इसके लिए आपको सबसे पहले अपने State के द्वारा आयोजित करवाई गई State Public Service Commission के Exams में शामिल होना पड़ता है। और ऊपर दिए गए तीनों चरणों को Successfully Clear के बाद ही आप SDM की Post प्राप्त कर सकते है।

SDM की Salary Package

दोस्तों ये बात तो हम सभी जानते हैं कि उच्च प्रभागिय न्यायाधीश यानी कि SDM एक उच्च स्तर का पद है जिस कारण इसका अच्छा खासा Salary Package भी मिलता है और इसके साथ-साथ समाज में एक प्रतिष्ठा सम्मान और आदर भी मिलता है। SDM Officer का वेतन 50000 से 100000 तक के बीच में होता है।

SDM को मिलने वाली Facilities

दोस्तों इस पद पर सरकार के द्वारा अच्छी Salary Package मिलने के साथ ही साथ अन्य Facilities भी प्राप्त होती है जैसे:

1. Sub Divisional Magistrate को अधिकारिक वाहन और वाहन चलाने के लिए Driver की सुविधा प्राप्त होती है।
2. इसके साथ ही SDM के जीवन साथी को Pension की सुविधा भी प्राप्त होती है। Retired होने पर SDM को Salary का आधा पैसा Pension के रूप में मिलता है।
3. SDM को आवास और घर की सुरक्षा के लिए Guard तथा घर के काम करने के लिए नौकर भी मुहैया कराया जाता है।
4. सरकारी कार्य के लिए यात्रा के दौरान ठहरने के लिए उच्च श्रेणी की व्यवस्था कराई जाती है।
5. SDM के Mobile Connection का Bill भी सरकार द्वारा ही भरा जाता है।

मैं आशा करती हूँ की मेरे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी और आप अब समझ गए होंगे की SDM पद को कैसे हासिल किया जा सकता है। जैसा हम जानते है की मेहनत ही सफलता की कुंजी है, और बिना मेहनत के SDM जैसे पद को हासिल नहीं किया जा सकता। मैं चाहती हूँ की आप अपनी ज़िंदगी में मेहनत करें और अपने सपनो को पूरा करे। एजुकेशन दुनिया परिवार आपके अच्छे भविस्य की कामना करता है।

ये भी जरूर पढ़े:

  • तहसीलदार कैसे बने? जानिये योग्यता और सैलरी के बारे में
  • Patwari कैसे बने? जानिये योग्यता और सैलरी के बारे में

दोस्तों आज की Post में हमने आपको जानकारी दी SDM Full Form In Hindi, Sub Divisional Magistrate क्या है उनके कार्यप्रणाली के बारे में। तो इस प्रकार अगर आप भी SDM बनना चाहते हैं तो इन तरीकों के द्वारा SDM पद पाने के लिए परीक्षा को उत्तीर्ण कर एक प्रतिष्ठित और सम्मानित पद को प्राप्त कर सकते है। आपको हमारा ये Post कैसा लगा हमे जरुर बताएं। साथ ही अगर आपके पास इस विषय से जुड़ी कोई सवाल या जिज्ञासा है तो आप वो भी हमें बता सकते हैं।