Noun In Hindi- Definition, Types of Noun, Examples

0
236
noun in hindi

अंग्रेजी को सीखने के लिए आपको इसके व्याकरण से अवगत होना जरूरी है और English Grammar को परिपक्व करने के लिए Noun को जानना जरूरी है। सिर्फ अंग्रेजी के लिए ही नहीं बल्कि Noun सीखने के बाद आप इसका इस्तेमाल प्रतियोगी परीक्षाओं और board Exams में कर सकते हैं। बहुत से छात्रों को Noun In Hindi? Noun के प्रकार और Noun की परिभाषा सीखने में कठिनाई महसूस होती है। इसीलिए हमने इस लेख के जरिए आपको Noun को आसानी से सिखाने का प्रयास किया है। हम आपको आसान भाषा के जरिए Noun के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान करेंगे। इसे पढ़ने के बाद आप इसे आसानी से समझ पाएंगे। तो चलिए शुरू करते हैं:-

हिंदी और अंग्रेजी व्याकरण में संज्ञा और Noun काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं क्योंकि यह हमें वाक्य की संरचना को समझने में मदद करते हैं। संज्ञा को सीखने का मुख्य उद्देश्य होता है किसी व्यक्ति, वस्तु, स्थान से संबंधित जानकारी को हासिल करना जिससे कि हम अपने व्याकरण को मजबूत कर सकें।

Noun क्या है? Noun In Hindi

Noun को समझने के लिए इसके शब्द पर गौर फरमाते हैं। दरअसल, Noun की उत्पत्ति लेटिन भाषा से हुई है। लैटिन भाषा में इसे ‘नाम’ कहा जाता है यानी कि जिन शब्दों से किसी व्यक्ति, वस्तु, स्थान, कार्य, गुण, अवस्था और जानवर आदि के बारे में पता चलता है, वे सभी संज्ञा कहलाते हैं।

Noun की एक परिभाषा सर्व व्याप्त है। इसकी परिभाषा है किसी व्यक्ति, वस्तु, स्थान या भाव के नाम को संज्ञा (Noun In Hindi) कहते हैं। इसी परिभाषा को अंग्रेजी में Noun Is The name of place, Person, thing , animal etc. है।

Noun को समझने के लिए कुछ उदाहरणों का सहारा लेते हैं।

Noun के Examples

  • व्यक्ति का नाम – प्रिया, भारती, श्वेता, राहुल, लड़का, लड़की
  • जानवर का नाम कुत्ता, बिल्ली, चूहा, हाथी, घोड़ा
  • वस्तु का नाम – टेबल, पंखा, चम्मच, बर्तन, पलंग
  • जगह का नाम ताज महल, लाल किला, दिल्ली, अस्पताल
  • गुण का नाम सुंदरता, दयालुता, कमजोरी, सच

ंज्ञा के प्रकार | Types of Noun

संज्ञा अपने आप में कई प्रकारों को समाए हुए हैं। इसके अलग-अलग प्रकार व्याकरण को समझने में मदद करते हैं। मुख्यतः संज्ञा के पांच प्रकार होते हैं। आइए जानते हैं इन पांच प्रकारों के बारे में विस्तार से:-

  • व्यक्तिवाचक संज्ञा (Proper Noun)
  • जातिवाचक संज्ञा (Common Noun)
  • भाववाचक संज्ञा (Abstract Noun)
  • समूहवाचक संज्ञा (Collective Noun)
  • द्रव्यवाचक संज्ञा (Material Noun)

व्यक्तिवाचक संज्ञा (Proper Noun)

वे संज्ञा जिससे किसी व्यक्ति, वस्तु, स्थान आदि के विशिष्ट नाम का बोध हो, उसे व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते हैं। आसान शब्दों में समझें तो जिस संज्ञा या वह व्यक्ति, वस्तु या स्थान जो अपने आप में विशेष महत्व रखता होगा। वह व्यक्तिवाचक संज्ञा कहलाएगा। इस तरह के संज्ञा (Noun In Hindi) को Singular संज्ञा कहा जाता है तथा इसमें Singular verb का प्रयोग होता है।

उदाहरण:- विशेष महत्व के व्यक्ति, वस्तु, स्थान :-

व्यक्ति :- महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू, राजीव गांधी, इंदिरा गांधी, भगत सिंह, सचिन तेंदुलकर

वस्तु व स्थान :- दिल्ली, मुंबई, लखनऊ, शिमला, जम्मू कश्मीर, ताजमहल, जामा मस्जिद, लाल किला।

व्यक्तिवाचक संज्ञा के उदाहरण

  • Sweta Is an intelligent Girl
  • Kutubminar is the tallest Building
  • Delhi is a crowded City.
  • The Quran is a holy book.
  • दिल्ली सा क्राउडेड सिटी
  • ताजमहल बहुत सुंदर है।
  • भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी हैं।
  • जम्मू कश्मीर बेहद सुंदर स्थान है।

उपरोक्त उदाहरणों में कुतुब मीनार, ताज महल, महात्मा गांधी, जम्मू कश्मीर यह सभी विशेष व्यक्ति, वस्तु, स्थान है। ऐसे में यह सभी व्यक्तिवाचक संज्ञा कहलाते हैं।

जातिवाचक संज्ञा (common Noun)

जातिवाचक संज्ञा उस संज्ञा को कहा जाता है जिसमें किसी व्यक्ति, वस्तु, स्थान आदि की संपूर्ण जातियां की श्रेणी का पता चले। आसान शब्दों में समझें तो जिस शब्द से हमें किसी भी चीज की संपूर्ण जाति, वर्ग का बोध हो वह जातिवाचक संज्ञा की श्रेणी में आएगा। इस तरह की संज्ञा (Noun In Hindi) से यह पता चलता है कि कोई भी चीज इस दुनिया में एक से अधिक मौजूद है। यानी कि जिनकी गिनती की जा सकती है। यह सिंगुलर और प्लूरल दोनों तरह की क्रियाओं में इस्तेमाल होता है। उदाहरण के तौर पर  लड़का (Boy), लड़की Girl, किताब आदि ।

उदाहरण :-

स्थान नदी, नाले, पर्वत, मरुस्थल, गांव, शहर

वस्तु मोबाइल, लैपटॉप, कार, स्कूटर, साइकिल, चाभी

प्राणी लड़का, लड़की, कुत्ता, बिल्ली, चिड़िया

जातिवाचक संज्ञा के कुछ उदाहरण

  • Dog is a Faithful Animal
  • I love this pen
  • She Is A good Girl.
  • कुत्ता एक पालतू जानवर है।
  • वर्तमान समय में लड़कियां, लड़कों से कम नहीं।
  • नदियां जीवन में हमेशा आगे बढ़ते रहने की प्रेरणा देती हैं।

उपरोक्त उदाहरणों से हमें पता चलता है कि लड़का-लड़की, नदियां और कुत्ता इन सभी शब्दों से इनकी जातियों का पता चलता है। भले ही यह एक ही शब्द है। लेकिन अपने आप में ही यह अपनी संपूर्ण जाति का बोध करा रहे हैं।

समूहवाचक संज्ञा (Collective Noun)

जिस संज्ञा में व्यक्ति,वस्तु, स्थान आदि के समूह के बारे में पता चलता है, उसे समूहवाचक संज्ञा कहते हैं। इस तरह कह सकते हैं कि इस संज्ञा से हमें किसी समुदाय का बोध होता है। कई बार इस संज्ञा को समुदायवाचक संज्ञा या फिर समूहवाचक संज्ञा भी कहा जाता है। इससे हमें किसी भी एक शब्द से उसके पूरे वर्ग का पता चलता है। इस तरह की संज्ञा (Noun In Hindi) में व्यक्तियों के समूह आते हैं जिसमें एक व्यक्ति नहीं कई व्यक्तियों के समूह आते है। उदाहरण के तौर पर भीड़ (Crowd),  चिड़ियों का झुंड (Flock) आदि।

समुदाय वाचक संज्ञा के कुछ उदाहरण

  • I Want to Join Army.
  • Indian Cricket team Won World cup.
  • The Flock of fox left the farm.
  • 12वी कक्षा के छात्र बहुत पढ़ाई करते हैं।
  • गांव में हास्य सभा कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है।
  • इस समूह के लोग काफी मजाकिया है।

ऊपर कक्षा , सभा और समूह जैसे शब्द समुदायवाचक संज्ञा की श्रेणी में आएंगे। क्योंकि इन शब्दों के साथ उनके पूरे वर्ग के बारे में पता चल रहा है।

भाववाचक संज्ञा (Abstract Noun)

इस संज्ञा का इस्तेमाल उन वाक्यों व शब्दों के लिए किया जाता है जिन्हें हम देख नहीं सकते और ना ही छू सकते हैं। आसान शब्दों में समझे तो इस तरह की संज्ञा से हमें किसी भी वस्तु, व्यक्ति, स्थान के गुण,धर्म, दशा, भाव आदि के बारे में पता चलता है। यानी कि इस तरह की संज्ञा का संबंध हमारे भाव से होता है जो कि सिर्फ अनुभव किए जा सकते हैं। इस तरह की संज्ञा (Noun In Hindi) में भावनाएं प्रमुख होती है। इस तरह हम इन्हें सिर्फ महसूस कर सकते हैं। जैसे कि ईमानदारी, खुशी, सच्चाई, दुखी और प्रेम आदि।

उदाहरण :-

  • भाव :- दुख, सुख, गुस्सा, प्रेम
  • अवस्था :- बचपन, बुढ़ापा, किशोरावस्था, प्रौढ़ावस्था, बाल्यावस्था
  • गुण :- मीठापन, कड़वाहट, कठोरता
  • दशा :- गरीबी, अमीरी

जिन शब्दों के अंत में नीचे बताए जा रहे शब्द आते हैं वे सभी भाववाचक संज्ञा की श्रेणी में आते हैं।

  • Ce
  • Tion/ion
  • Ness
  • Dom
  • Ty
  • Ship
  • Th
  • Ism
  • Hood
  • Ment

ाववाचक संज्ञा के कुछ उदाहरण

  • We should Help poor people
  • We should always show kindness towards the needy people.
  • I love my mother so much.
  • She was so said when she left that city.
  • अपने मां के बीमार होने पर वह बहुत दुखी थी।
  • हमें सभी से प्यार से बात करना चाहिए।
  • हमें जीवन में हमेशा ईमानदार रहना चाहिए।
  • लाल किला बेहद ही सुंदर और बड़ा है।
  • रसीले आमों का मिठास ही अलग होता है।

ऊपर बताए गए दुखी, सुंदर, मिठास जैसे शब्द भाववाचक संज्ञा की श्रेणी में आते हैं क्योंकि इस तरह की संज्ञा (Noun In Hindi) से इन सभी के भाव का बोध हो रहा है।

द्रव्यवाचक संज्ञा (Material Noun)

वह संज्ञा जिससे हमें किसी द्रव्य अथवा तरल पदार्थ के बारे में पता चले वह द्रव्यवाचक संज्ञा कहलाती है। इस तरह इस द्रव्य को हम गिन नहीं सकते बल्कि तोल या माप सकते हैं। कई बार इस तरह की संज्ञा में नापतोल के पदार्थ और वस्तुओं का बोध कराने वाले शब्दों को भी सम्मिलित किया जाता है। उदाहरण के लिए पानी, तेल, पेट्रोल आदि।

द्रव्यवाचक संज्ञा के कुछ उदाहरण

  • Iron is a useful Material.
  • My bangle is made of silver
  • Gold is costly the silver.
  • तालाब का पानी काफी साफ है।
  • भैंस का दूध काफी पौष्टिक होता है।
  • फलों का रस स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है।

उपरोक्त उदाहरणों में पानी, दूध और रस जैसे शब्द द्रव्यवाचक संज्ञा की श्रेणी में आते हैं। इस तरह की संज्ञा (Noun In Hindi) में किसी भी धातु जैसे लोहे, तांबे आदि को भी सम्मिलित किया जाता है।

कई बार संज्ञा को दो अन्य भागों में विभाजित किया जाता है। यह अन्य भाग हैं गणनीय संज्ञा (Countable Noun) और अगणनीय संज्ञा (UnCountable Noun) आइए इन दोनों के बारे में भी जान लेते हैं।

गणनीय संज्ञा (Countable Noun)

इस तरह की संज्ञा में वे शब्द सम्मिलित होते हैं जिनकी गिनती की जा सकती है। इसके साथ ही जिन शब्दों का Plural बनाया जा सकता है। आइए ऐसे उदाहरणों के माध्यम से समझते हैं।

गणनीय संज्ञा के कुछ उदाहरण इस प्रकार है :-

  1. उसके पास एक कलम है। (She has a pen)
  2. उसके पास बहुत सारे बैग हैं। (He has Several Bags)
  3. सोहन के पास बहुत सारे लंचबॉक्स है। (sohan Has many lunch Boxes)
  4. उनके पास बहुत सारे कमरे हैं। (they have many rooms)

ऊपर बताए गए शब्दों में कलम, बैग, लंचबॉक्स और कमरे की हम गिनती कर सकते हैं। यानी कि इनका बहुवचन बना सकते हैं। आपने देखा होगा कि इन सभी शब्दों के आगे 1,2,4 या बहुत सारे जैसे शब्दों को भी शामिल किया गया है। यानी कि इनकी गिनती की जा रही है। यह सभी शब्द गणनीय संज्ञा की श्रेणी में आते हैं।

अगणनीय संज्ञा (Uncountable Noun)

जैसे कि नाम से ही पता चलता है, वह चीजें हैं जिनकी गिनती नहीं की जा सकती है। वे सभी इस संज्ञा की श्रेणी में आते हैं जिन्हें गिना नहीं जा सकता। इस तरह की संख्या में वस्तु, अवधारणा और चीजे सम्मिलित होती हैं जिनकी गिनती हम नहीं कर सकते। आइए इसे उदाहरण के जरिए अच्छे से समझते हैं।

अगणनीय संख्या के कुछ उदाहरण इस प्रकार हैं :-

  • मेरे पास सरसों का तेल है।
  • हम रोज दूध लेते हैं।
  • क्या तुम्हारे पास आटा है?
  • कृपया मुझे इंक दे दो।

ऊपर के वाक्यों में सरसों, दूध, आटा, इंक जैसे शब्द सम्मिलित किए गए हैं। इस तरह के शब्दों की हम गिनती नहीं कर सकते। वहीं इन शब्दों के आगे a या An भी नहीं लगाया जा सकता क्योंकि हम आटा, चावल, तेल को एक या दो कि श्रेणी में नहीं गिन सकते।

ऊपर बताए गए संज्ञा के दो प्रकारों के अलावा भी संज्ञा (Noun In Hindi) को कई अन्य प्रकारों में विभाजित किया जाता है। हालांकि हमने उपरोक्त जैन प्रकारों के बारे में बताया है कि व्याकरण के लिए आधारभूत है। यह सब प्रकार हमें संख्या को अच्छे से समझने में मदद करते हैं।

संज्ञा को कैसे पहचाने?

अंग्रेजी व्याकरण को समझने के लिए Noun को पहचानना जरूरी है। इसके अलावा इनको पहचानने से आप अनुवाद करना और क्रिया को आसानी से समझ सकेंगे। यहां पर हम इनकी पहचान करने का एक सबसे आसान तरीका बता रहे हैं। आइए जानते हैं:-

नीचे बताए गए यह शब्द जिन वाक्यों के अंत में आते हैं, उन सब में संज्ञा होती है:-

  • Ce :- importance, Chance, patience
  • ion :- Tension, Termination, Examination
  • Ness :- Shyness , Weakness, Fitness
  • Ty :- Quality, Equality, ability
  • Ment :- Enjoyment, Entertainment, Compliment
  • Hood :- Childhood, Brotherhood, Neighborhood
  • Or :- Predator, Spectator
  • Ar :- Grammar
  • Er :- Computer, Weather

ये भी जरूर पढ़े:

निष्कर्ष (Conclusions)

दोस्तों आज के इस Article में हमने Noun के बारे में पढ़ा। आज हमने (Noun) संज्ञा को बेहद ही आसान शब्दों की मदद से समझाने का प्रयास किया है। इस Article में हमने पढ़ा Noun Kya Hai? Noun In Hindi, Types Of Noun तथा संज्ञा के विभिन्न प्रकारों के बारे में विस्तृत जानकारी, हमने उदाहरणों के माध्यम से भी संज्ञा को समझने का प्रयास किया है। अगर आप किसी भी तरह की प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं या फिर व्याकरण में अपने ज्ञान को बढ़ाना चाहते हैं तो इसे जरूर पढ़ें। इसके अलावा आप हमारे अन्य आर्टिकल्स पढ़ सकते हैं। जहां हमने अंग्रेजी व्याकरण से संबंधित अलग-अलग Articles लिखे हैं। अगर आप संज्ञा से संबंधित कोई अन्य जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं। अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे अपने मित्रों तक साझा करना ना भूले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here