LASER Full Form LASER क्या है? LASER की पूरी जानकारी

0
246
laser full form

विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में समय के साथ तीव्र विकास हो रहा है। इस विकास के चलते आज प्रत्येक क्षेत्र में नई-नई प्रौद्योगिकी का आगमन हो चुका है। स्वास्थ्य, उद्योग जैसे कई क्षेत्रों में विभिन्न तरह के उपकरण आ चुके हैं इनमें से ज्यादातर उपकरणों में LASER का इस्तेमाल किया जाता है। क्या आपको पता है की LASER Full Form क्या है? आपने सुना होगा कई तरह की बीमारियों, Surgery में LASER Treatment का उपयोग किया जाता है। इसका प्रयोग पथरी, नेत्रों का उपचार, सर्जरी में किया जाता है। पारंपरिक सर्जरी के मुकाबले लोगों द्वारा LASER सर्जरी को ज्यादा पसंद किया जाता है, क्योंकि लोगों का मानना है इस तरह के Treatment जल्द और आसानी से हो जाते है।

लेकिन बहुत से लोग यह नहीं जानते कि Laser क्या है? Full Form क्या है? LASER के प्रकार क्या हैं? तथा इसका आविष्कार किसने और कब किया। आपके इन सभी सवालों के उत्तर के रूप में हम यह पोस्ट लेकर आए हैं जिसमें हम आपको Laser के विषय में बताएंगे। तो चलिए शुरू करते हैं बिना किसी देरी के:-

LASER Full Form

LASER Full Form “Light Amplification By Stimulated Emission of Radiation” होता है। LASER Full Form In Hindiविकिरण के उत्सर्जन से प्रेरित प्रकाश प्रवर्धन होता है।

LASER क्या है?

LASER एक तरह का इलेक्ट्रॉनिक उपकरण होता है जो कि प्रकाश उत्सर्जित करता है। इसे एक तरह का विद्युत चुंबकीय विकिरण कहा जाता है। यह Stimulated Emission की प्रक्रिया के जरिए उत्पन्न किया जाता है। LASER के आविष्कार के बाद से ही इसका उपयोग चिकित्सा, युद्ध, विज्ञान और शोध जैसे कई क्षेत्रों में किया जाता है।

जहां हमें इसके कई सकारात्मक परिणाम देखने को मिलते है। वहीं इसके कई नकारात्मक परिणाम भी है। LASER का उपयोग जहां नेत्र रोगों को दूर करने तथा नेत्र से संबंधित सर्जरी के लिए किया जाता है वही इसका ज्यादा इस्तेमाल इंसान के आंखों को खराब कर सकता है। एक LASER इतना शक्तिशाली होता है कि यह आसानी से चांद की सतह तक बहुत सकता है। वर्तमान समय में LASER का इस्तेमाल युद्ध में हथियार बनाने के लिए किया जाता है जो कि सबसे खतरनाक साबित होता है। चाइना इन हथियारों के निर्माण में अग्रणी है।

कई बार इसका अर्थ प्रकाश पुंज से निकलने वाले प्रकाश के रूप में किया जाता है। हालांकि हर तरह के LASER में इस अर्थ का प्रयोग किया जाना सही नहीं है। लेकिन ज्यादातर LASER प्रकाश पुंज की तरह ही प्रकाश का उत्सर्जन करते हैं। वहीं कुछ LASER तरंगदैर्ध्य के रूप में प्रकाश उत्सर्जित करते हैं। LASER Full Form

LASER  का इतिहास

LASER जैसे महत्वपूर्ण उपकरण का आविष्कार आखिर कब किया गया तथा कैसे हुआ? यह जाना काफी जरूरी है। दरअसल, Albert Einstein ने 1917 में LASER के आविष्कार की नींव डाली। LASER का ज़िक्र उनके शोध पत्र ‘ज़ूर क्वांटनथ्योरी डेर स्ट्राहलंग’ में मिलता है। हालांकि LASER का आविष्कार पूर्णतः 1960 के दशक में किया गया। इसका आविष्कार  Theodore H.Maiman द्वारा किया गया था। उन्होंने LASER का आविष्कार Charles Hard Townes Arthur Leonard Shadow के सिद्धांत के आधार पर किया। हालांकि, इस आविष्कार के पीछे भी एक रोचक कहानी छिपी हुई है।

दरअसल Theodore H.Maiman द्वारा LASER का आविष्कार संयोगवश हुआ था। जब उनके कैमरे के लेंस के ऊपर एक रूबी का टुकड़ा गलती से लग गया तो उससे एक लाल रंग का प्रकाश निकलने लगा। इस प्रकाश को देखकर Theodore H.Maiman के मन में उत्सुकता जागी। और फिर क्या था, उन्होंने इसका गहन अध्ययन करना शुरू कर दिया और इस अध्ययन के फलस्वरूप LASER का आविष्कार हुआ।

LASER के प्रकार

लेजर को मुख्यतः 4 मुख्य प्रकारों में विभाजित किया जाता है। आइए जानते हैं, उनके बारे में:-

  • Solid-state laser : सॉलिड स्टेट लेजर उन Laser को कहा जाता है जिनमें LASER के रूप में Solid का इस्तेमाल किया जाता है। इस तरह के Laser में कांच व क्रिस्टल पदार्थों का प्रयोग होता है। सबसे पहला सॉलिड लेज़र Ruby Laser था।
  • Liquid Laser : इस तरह का LASER तरल अवस्था में होता है तथा इसे Organic घोल यानी कि Rhodamine 6G के Liquid Solution में या फिर Suspension Glass Tube में रखकर इस्तेमाल किया जाता है।
  • Gas Laser : इस तरह के LASER को कार्बन डाइऑक्साइड, हीलियम, नियॉन, नाइट्रोजन जैसी गैसों से बनाया जाता है।
  • Semiconductor Laser : इस तरह के लेज़र बहुत सारे छोटे-छोटे अर्धचालक Components से बने होते हैं। इनका इस्तेमाल दैनिक जीवन में किया जाता है। यह लेज़र ज्यादा सस्ते और कम बिजली की खपत करने वाले होते हैं।

LASER का इस्तेमाल

1960 में LASER के आविष्कार के बाद से ही इसका कई क्षेत्रों में बहु प्रयोग होने लगा। LASER का इस्तेमाल सूचना प्रौद्योगिकी, उद्योग, कानून प्रवर्धन, मनोरंजन, युद्ध तथा उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स में किया जाता है। आइए जानते हैं इसका प्रयोग कहां-कहां किया जाता है:-

  • चिकित्सा के क्षेत्र में:- LASER का आविष्कार काफी ज्यादा महत्वपूर्ण माना जाता है क्योंकि इसके आविष्कार के बाद से स्वास्थ्य के क्षेत्र में भी क्रांति आ गई। LASER के इस्तेमाल से कैंसर का उपचार किया जाता है। इसके अलावा इसकी मदद से हृदय की धमनियों में खून जमने, आंखों से मोतियाबिंद निकालने, शरीर के किसी आंतरिक अंग में घाव तथा सूजन का उपचार करने, शरीर में पथरी का इलाज करने, त्वचा से दाग धब्बों को दूर करने जैसे कई महत्वपूर्ण कार्यों के लिए किया जाता है।
  • उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स के रूप में:- सबसे पहले LASER का इस्तेमाल 1974 में सुपरमार्केट बारकोड में किया गया। इसके बाद LASER का इस्तेमाल Laserdisc Player के रूप में 1878 में किया गया। आगे जाकर इसका इस्तेमाल कॉम्पेक्ट डिस्क में भी किया गया और इसके बाद साल 1982 की शुरुआत में Laser प्रिंटर आए जिसमें उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स के क्षेत्र में क्रांति ला दी।
  • उद्योग के क्षेत्र में:- LASER का इस्तेमाल विभिन्न उद्योगों में किया जाता है। इसका इस्तेमाल वेल्डिंग (Welding) के लिए, ताप के लिए तथा विभिन्न पुर्जों में चिह्न लगाने के लिए किया जाता है।
  • युद्ध में:- विभिन्न सेनाओं में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है। समय-समय पर देखने को मिला है कि युद्ध में भी LASER का इस्तेमाल किया गया है। LASER के माध्यम से electro-optical प्रतिरक्षा बनाए जाते हैं। वहीं मिसाइल रक्षा तथा RADAR आदि में भी इसका प्रयोग किया जाता है। विभिन्न युद्धों में LASER का इस्तेमाल दुश्मनों के प्रक्षेपास्त्रों का पता लगाने के लिए किया जाता है जिससे वे इनको ढूंढ कर नष्ट कर सके। वर्तमान समय में LASER का इस्तेमाल युद्ध के क्षेत्र में और भी बढ़ चुका है क्योंकि इसके इस्तेमाल से अब LASER राइफल, Laser पिस्टल का भी निर्माण किया जा रहा है। LASER का इस्तेमाल सिर्फ थल में ही नहीं बल्कि इसका इस्तेमाल अंतरिक्ष में भी किया जाता है। इसके जरिए रॉकेट तथा उपग्रहों को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है।
  • विज्ञान और अनुसंधान के क्षेत्र में: LASER का इस्तेमाल प्लाज्मा, ताप तथा इलेक्ट्रॉनिक घनत्व का पता लगाने के लिए किया जाता है। वही LASER Torch के जरिए दूर की वस्तुओं को आसानी से देखा जाता है। इसके अलावा LASER के प्रयोग से ही पृथ्वी से चंद्रमा की दूरी को भी नापा गया है।

ये भी जरूर पढ़े:

निष्कर्ष (Conclusions)

आज इस Article में हमने जाना कि LASER क्या होता है? LASER Full Form क्या होता है? LASER के कितने प्रकार होते है? हमने आपको LASER Full Form से जुड़ी सारी जानकारी देने का हर संभव प्रयास किया है। अगर आप इसके अलावा कोई और जानकारी जानने को इच्छुक हैं, तो हमें Comment Section में बताएं। अगर आपको यह Article पसंद आया है तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here