Home Full Form CDS Full Form क्या है? CDS क्या होता है? जानिये हिंदी में

CDS Full Form क्या है? CDS क्या होता है? जानिये हिंदी में

0
15
cds full form in hindi

15 अगस्त 2019 में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से ऐलान किया था कि अब एक नए पद का निर्माण किया जा रहा है। इस पद का नाम है CDS। उन्होंने बताया कि CDS का काम होगा तीनों सेनाओं के बीच तालमेल बनाना तथा उनकी निगरानी करना। क्या आपको पता है की CDS Full Form क्या है और CDS क्या होता है अगर आपका जवाब नहीं है तो हमारे इस लेख के साथ जुड़े रहिये।

देश के पहले CDS, जनरल बिपिन रावत को बनाया गया। जैसा कि आप जानते हैं जनरल बिपिन रावत पहले भारतीय सेना के अध्यक्ष के तौर पर कार्यभार संभाल चुके थे। लेकिन इसके बाद उन्हें CDS का पद दिया गया। ऐसे में यह जानना जरूरी है कि आखिर CDS क्या है? CDS का Full Form क्या है? CDS कि क्या जिम्मेदारियां होती है। आइए जानते हैं इस लेख के माध्यम से।

CDS Full Form क्या है?

CDS Full Form “Chief Of  Defence Staff” है और CDS Full Form In Hindi  “प्रमुख रक्षा अध्यक्ष” या “चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ” है। हालांकि, हिंदी के इस CDS Full Form को लेकर कई भाषाविदों का मानना है कि यह उपयुक्त नहीं है। उनका कहना है कि यह अंग्रेजी के Chief Of Defence का अनुवाद मात्र है। कई भाषाविदों का यह कहना है कि इसकी जगह ‘सैन्य निकायों के प्रमुख’ उपयुक्त है।

CDS क्या होता है?

CDS भारतीय सेना का एक बहुत महत्वपूर्ण पद है। जैसा कि आप जानते हैं भारत में तीन प्रमुख सेनाएं हैं जिनका नाम जल सेना, थल सेना और वायु सेना है। इन सभी सेनाओं के प्रमुखों से ऊपर CDS का पद होता है। जो इन तीनों सेनाओं में समन्वय बनाना तथा इनकी निगरानी करने का काम करता है।

CDS का प्रतीक चिन्ह (insignia) के बारे में जानकारी

आपने जाना कि CDS का काम होता है तीनों सेनाओं के बीच सामंजस्य बैठाना तथा उनके कार्य प्रणाली पर निगरानी रखना। ऐसे में यदि CDS के प्रतीक चिन्ह की बात करें तो CDS पद और उसके कार्य की झलक आपको इसके प्रतीक चिन्ह में मिल जाएगी। दरअसल, इस प्रतीक चिन्ह में आपको जल सेना, थल सेना, वायु सेना इन तीनों सेनाओं के प्रतीक चिन्हों को शामिल किया गया है। इसमें थल सेना की तलवार और अशोक चिन्ह को शामिल किया गया है। इसमें जल सेना के एंकर तथा वायु सेना के प्रतीक पक्षी यानी कि गरुण को भी दिखाया गया है।

CDS full form
CDS का प्रतीक चिन्ह

यह प्रतीक चिन्ह अपने आप में इस बात को स्पष्ट करता है कि CDS प्रमुख का कार्य होता है तीनों सेनाओं कि निगरानी तथा तीनों सेनाओं के प्रमुखों की निगरानी करना।

CDS के Uniform के बारे में Information

CDS का यह पद काफी नया है इसीलिए इसकी Uniform भी काफी अलग है। CDS प्रमुख की वर्दी ओलिव ग्रीन यानी कि जैतूनी हरे रंग की होती है। वर्दी के कंधों पर बैज बेल्ट का बकल, पीक कैप तथा बटन लगा हुआ है। CDS का शोल्डर बैज का रंग मरून है जिसमें अशोक चिन्ह बना है।

CDS Uniform

अपनी Uniform के बारे में बात करते हुए CDS पद के लिए नियुक्त जनरल बिपिन रावत ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया था कि वे इस यूनिफार्म के साथ P-Cap पहनेंगे।

CDS की जिम्मेदारियां

बहुत सारे लोगों का यह सवाल है कि आखिर CDS कौन-कौन सी जिम्मेदारी उठाता है, तो आइए जानते हैं इस अहम पद की जिम्मेदारियों के बारे:-

  • तीनों सेनाओं के बीच तालमेल बनाना:- CDS की प्रमुख जिम्मेदारी है तीनों सेनाओं के कार्य प्रणाली की निगरानी तथा उनके बीच तालमेल को बेहतर बनाना। इसके लिए सैन्य मामलों का विभाग भी बनाया गया था जिसके प्रमुख चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ है।
  • चीफ ऑफ स्टाफ कमेटी का स्थायी अध्यक्ष:- CDS, चीफ ऑफ स्टाफ कमेटी (Chiefs Of Staff Committee) के स्थाई अध्यक्ष होते है। इसके अंतर्गत वे सशस्त्र सेनाओं के ऑपरेशन के लिए आपस में समन्वय और वित्त प्रबंधन सुनिश्चित करेंगे।
  • रक्षा मंत्री के प्रिंसिपल मिलिट्री एडवाइजर:  CDS का काम होगा तीनों सेनाओं से संबंधित मुद्दों के बारे में रक्षा मंत्री को सलाह देना।
  • CDS सैन्य मामलों के विभाग के प्रमुख होंगे।
  • यह रक्षा मंत्री के अध्यक्षता में आयोजित किए जाने वाले रक्षा अधिग्रहण परिषद में सदस्य होंगे।
  • यह परमाणु कमान प्राधिकरण के सैन्य सलाहकार के रूप में कार्यरत होंगे।
  • यह तीनों सेनाओं में तालमेल बनाने के अलावा इनके बीच देर दीर्घकालिक नियोजन, प्रशिक्षण, खरीद कार्यों का भी समन्वय करेंगे।

हालांकि CDS पद पर कार्यरत रहने वाले लोग किसी भी अन्य सरकारी पद पर कार्य नहीं कर सकेंगे। इसके साथ ही CDS को तीनों सेनाओं के प्रशासनिक मुद्दों पर फैसला लेने का अधिकार तो होगा लेकिन वे किसी तरह से मिलिट्री कमांड नहीं दे पाएंगे। जानकारी के लिए आपको बता दें CDS पद पर कार्यरत लोग 62 साल की आयु के बाद रिटायर हो जाते हैं। इसके साथ ही वे सिर्फ 3 साल तक अपनी सेवाएं दे सकते हैं।

CDS पद की आवश्यकता

कई लोगों के मन में यह प्रश्न होगा कि जब तीनों सेनाओं के प्रमुख इन सेनाओं का संचालन कर रहे हैं तो आखिर CDS का पद क्यों बनाया गया। यह जानने के लिए आपको इतिहास में ले चलते हैं। दरअसल, साल 1999 में कारगिल का युद्ध हुआ था जिसके बाद 2001 में उस काल के उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया गया। इस कमेटी का नाम था ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स (GOM) इस कमेटी ने जब अपनी समीक्षा की तो इसमें सामने आया की तीनों सेनाओं में कोई समन्वय नहीं है। लेकिन यदि इन तीनों सेनाओं के बीच तनाव या तालमेल ठीक होता है तो इससे सेना को होने वाले नुकसान में कमी आ सकती है।

जिसके बाद उस दौरान CDS के पद के निर्माण का सुझाव दिया गया था। लेकिन उस दौर में राजनीतिक सहमति नहीं बन पाई और CDS का पद नहीं बन पाया। लेकिन नरेंद्र मोदी सरकार ने आखिरकार CDS पद का निर्माण किया।

विदेशों में CDS का पद

कई लोग मानते हैं कि भारत एक पहला देश है जहां पर चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ का पद बनाया गया है। लेकिन ऐसा नहीं है क्योंकि विश्व में कई अन्य देश भी है जहां पर यह पद पहले से ही मौजूद थे। North Atlantic Treaty Organization (NATO) के अंतर्गत आने वाले 29 देशों में से अधिकतर देशों ने पहले से ही चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ को नियुक्त किया हुआ है। चीफ ऑफ डिफेंस की शक्तियां इन देशों में देश के आर्म्ड फोर्स में सबसे अधिक है।

इसके अलावा यूनाइटेड किंग्डम (United Kingdom) ,फ्रांस (France), इटली समेत अन्य 10 देशों में भी CDS की व्यवस्था की गई है। हालांकि इन देशों में CDS की शक्तियां थोड़ी भिन्न होती है।

ये भी जरूर पढ़े:

निष्कर्ष (Conclusions):

इस लेख में हमने जाना CDS Full Form? CDS क्या है? CDS के प्रतीक चिन्ह तथा CDS के प्रमुख की वर्दी से संबंधित जानकारियों के बारे में। अगर आपको इसके अलावा भी कोई और जानकारी जानना है तो हमें Comment Sections में जरूर बताएं। साथ में ये भी जरूर बताएं की आपको हमारा Post कैसा लगा । धन्यवाद!