ANM क्या है? ANM Course कैसे करें ANM Full Form

anm full form in hindi

दोस्तों आज के समय में लड़कियां किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं है वह हरे क्षेत्र में अपना वर्चस्व स्थापित कर रही हैं। लेकिन जब बात उनके करियर के चुनाव की होती है तो उनके सामने सबसे बड़ा सवाल यही होता है कि उन्हें आगे क्या करना है, किस क्षेत्र में आगे बढ़ना है। यह सब सवाल तब आता है जब छात्राएं 12th पास कर लेती है और उस वक्त सबसे बड़ा सवाल यही होता है कि अब आगे क्या करना है। वैसे तो बहुत सारे क्षेत्र है जिनमें छात्राएं अपना करियर बना सकती हैं लेकिन अगर नर्सिंग के क्षेत्र में अपना भविष्य बनाना चाहती हैं तो आज हम एक ऐसे ही Course के बारे में बताने जा रहे हैं जो सिर्फ लड़कियों के लिए है। जी हां हम दोस्तों हम बात कर रहे है ANM Course के बारे में जो एक Nursing Course हैं। क्या आपको पता है की ANM Course क्या है, ANM Full Form In Hindi क्या है, अगर नहीं तो हमारे साथ इस लेख में जुड़े रहिये।

अगर आप ने 12th पास कर ली है और आप ये सोचने पर मजबूर है की आगे क्या करें तो आप एकदम सही webpage पर आये है। आपने ANM के बारे में सुना तो जरूर होगा लेकिन आज अच्छे से जान भी लीजिय। ANM एक Diploma है जिसको करने के बाद आप Nursing Field में अपना करियर बना सकते है और कोर्स को करने के बाद ही एक अच्छी नौकरी पा सकते है। यह एक ऐसे करियर का चुनाव है जिसमे आपको रोजी-रोटी कमाने के साथ साथ समाज सेवा का भी अवसर मिलता है।

वर्तमान समय में ANM Course का काफी ज्यादा Trend है। आज के समय में ज्यादातर लड़कियां इस Course को करना चाहती हैं क्योंकि इस Field में Jobs के बहुत सारे अवसर प्राप्त होते हैं। जिन छात्राओं की रुचि स्वास्थ्य संबंधित यानि की Health Sector के क्षेत्र में होती है, उन छात्राओं के लिए तो यह एकदम सही करियर का चुनाव होगा। दोस्तों यदि आप भी इससे जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारियों को जानना चाहते है तो हमारा ये आज का Post अंत तक जरूर पढ़ें। आज हम आपको इस Course से जुड़े सारे महत्वपूर्ण जानकारियों को साझा करेंगे, तो चलिए शुरू करते है।

ANM क्या होती है?

दोस्तों ANM Course के बारे में जानने से पहले आपका ये जानना बहुत जरूरी है कि AMN कौन होता है। ग्रामीण इलाकों में रह रहे लोग गांव वासियों व समाज के लोगों को स्वास्थ्य संबंधी बातों की जानकारी देना तथा उनके समुदाय व ग्रामीण लोगों के स्वास्थ्य की देखभाल करना का मुख्य कार्य ANM कार्यकर्ता के जिम्मे मे होता है। इतना ही नहीं यह महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान ध्यान रखने योग्य बातों की जानकारी भी प्रदान करती है। या हम यु कह सकते है की ANM सामुदायिक रूप से Health Service देने का कार्य करती है।

anm full form in hindi
ANM

ANM Course क्या है?

अब हम बात करते है ANM Course के बारे मे, यह Course Medical Sector का एक Diploma Course है जो 2 साल का होता है। लड़कियों के बीच यह Course ज्यादा Craze मे रहता है। जिन भी लड़कियों को स्वास्थ्य संबंधित क्षेत्र में जाने का सपना है वह इस Course को चुन कर के अपने सपने को पूरा कर सकती है। इस Course में विज्ञान से संबंधित विषयों की जानकारी दी जाती है। इसके अंतर्गत मां बनने वाली महिलाओं के स्वास्थ्य में मैटरनल हेल्थ केयर (Maternal Health Care) और प्रेगनेंसी (Pregnancy) से जुड़ी सारी बातों की पूरी जानकारी दी जाती है। यह Course सिर्फ और सिर्फ लड़कियों के लिए होती है। ANM कार्यकर्ता ग्रामीण इलाकों में ज्यादा कार्यरत होती हैं, उन्हें वहां स्वास्थ्य कार्यकर्ता के रूप में नियुक्त किया जाता है। इसके साथ ही इस Course में Admission लेने वाले छात्राओं को शारीरिक और मानसिक रूप से एकदम स्वस्थ और फुर्तीला होना आवश्यक है। ANM Course के अंतर्गत मरीजों की देखरेख टीका लगाना, पोलियो पिलाना, प्रसूति देखरेख करना व इलाज के समय जरूरत में आने वाले उपकरणों को इस्तेमाल करने इत्यादि बातों की जानकारी दी जाती है।

BA क्या है? Complete Course Details

ANM Full Form In Hindi

ANM को अंग्रेजी में “Auxiliary Nursing Midwifery” कहते है और हिंदी में इसे “प्रसूति विद्या” भी कहा जाता है। इस Course के अंतर्गत लड़कियों को अपना करियर बनाने का अच्छा अवसर प्राप्त होता है। ANM full form in Hindi है “सहायक नर्स दाई” जिसको सामान्य तौर पर ANM नर्स के नाम से भी जाना जाता है।

anm full form kya hai
ANM Full Form

ANM Course में Admission लेने हेतु योग्यता

ANM Course में Admission लेने के लिए छात्राओं को कम से कम 12th Pass होना चाहिए तथा उनका 12th में 45 से 50 प्रतिशत अंको के साथ उत्तीर्ण होना आवश्यक है। इसके साथ ही उन्हें अंग्रेजी और विज्ञान विषय की अच्छी जानकारी होनी चाहिए। जो छात्रा किसी अन्य भी Stream से भी है। वह भी इस Course के लिए Apply कर सकती हैं।

ANM मे Admission लेने हेतु Age Limits

ANM Course में Admission लेने के लिए कम से कम 18 वर्ष और अधिकतम 35 वर्ष उम्र होना चाहिए। जो छात्राएं आरक्षित वर्ग से संबंधित है उनको नियमानुसार Age Limit में छूट प्रदान की जाएगी। अगर आप बारहवीं पास है और आपकी आयु 18 वर्ष से लेकर 35 वर्ष के बीच में है तो ANM कोर्स करना आपके भविष्य के लिए सुनहरा अवसर हो सकता है। आइये जानते है की ANM में Admission कैसे ले।

ANM मे Admission लेने हेतु प्रक्रिया

जैसा की हम बात कर चुके है, इस Course में Admission लेने के लिए सबसे पहले आपका 12th Pass होना अति आवश्यक है। इसके साथ ही 12th में कम से कम 45 से 50 प्रतिशत अंको के साथ मान्यता प्राप्त बोर्ड से Pass होना अनिवार्य है। अगर हम बात करे आरक्षण सीट वाले छात्रों की तो उनको 12th में कम से कम 40% प्रतिशत अंकों का होना आवश्यक है। इसके पश्चात ही ANM Course के लिए College व University से ANM का Entrance/Admission Form भरना और Entrance Examination को Pass करना है। कुछ सरकारी College व University ANM Course के लिए खुद भी Entrance Exam Organized करवाती है और Entrance में आए Marks के हिसाब से ही Admission देती है। लेकिन कुछ College ऐसे भी हैं जहां सिर्फ Merit के आधार से ही Direct Admission दिया जाता है, ऐसा सिर्फ Private Colleges में होता है। ANM Course को आप सरकारी और प्राइवेट दोनों जगह से कर सकते है लेकिन यह देखना जरूरी है कि उस संस्था में Course से संबंधित सारी सुविधाएं हैं या नहीं, वहां पढ़ाई अच्छी होती है या नहीं, Practical कराया जाता है या नहीं, Course पूरा करने के बाद वह College या संस्था Placement करवाता है या नहीं, इस सब बातों की पूरी जानकारी लेकर किसी भी संस्थान से ANM Course को करें। वैसे तो अब कुछ ऐसे भी Private Hospitals जो इस तरह के Courses को करवाते है तो आप उन Private Hospitals में भी ANM Course के लिए Apply कर सकते हैं।

BBA क्या है? Complete Course Details In Hindi

ANM Course की Fee Structure

दोस्तों आपको इस 2 वर्षीय ANM Course के लिए अलग-अलग College व University में अलग अलग Fee Structure देखने को मिलती है। जहा सरकारी Colleges में इस Course के लिए 10,000 के लगभग Fees होती है वहीं प्राइवेट College में ANM Course के Admission फीस ज्यादा होती है, वहां इस Course के लिए लगभग ₹200000 रुपए तक Fees ली जाती है। Private College की अपेक्षा सरकारी College ANM Course के लिए कम Fees लेती है।

ANM Course का Syllabus विवरण

अब हम बात करते है इस Course के पाठ्यक्रम यानी की Course के Syllabus के बारे मे जिसको Course की अवधि के आधार पर Design किया जाता है और इस Course के Second Year में 6 महीने का एक Internships Programs भी करवाए जाते है। इसके साथ ही आपको ANM का 2 साल का पूरा Course करने के बाद 6 महीने के लिए किसी भी प्राइवेट या सरकारी हॉस्पिटल से Internship करना चाहिए। जिससे आपको स्वास्थ्य संबंधित क्षेत्र से जुड़ी सारी जानकारियां प्राप्त हो सके। यह Internship बहुत ही जरूरी होती है, जिसमें आपको सारी जानकारी दी जाती है। जैसा कि हम सभी जानते हैं कि यह एक Nursing का Course है उसी के अनुसार इसके पाठ्यक्रमों में विभिन्न विषयों को रखा है। ये विषय इस प्रकार है –

1. First Year Course Syllabus – ANM के प्रथम वर्ष के पाठ्यक्रमों में इन निम्न विषयों को शामिल किया गया है –

  • स्वास्थ्य केंद्र प्रबंधन का सिद्धांत (Health Center Management Theory)
  • स्वास्थ्य संवर्धन और पोषण (Health Promotion and Nutrition)
  • बाल स्वास्थ्य और स्वास्थ्य नर्सिंग (Child Health And Health Nursing)
  • व्यवहार विज्ञान (Behavioral Science)
  • सामुदायिक स्वास्थ्य और नर्सिंग (Community Health And Nursing)

2. Second Year ANM Syllabus– ANM के द्वितीय वर्ष के पाठ्यक्रमों में इन निम्न विषयों को शामिल किया गया है –

  • प्रसव वार्ड (Antenatal ward)
  • पर्यावरण स्वच्छता (Environmental Sanitation)
  • दाई का सिद्धांत /व्यवहारिक (Midwifery Theory /Practical)
  • बाल स्वास्थ्य और स्वास्थ्य नर्सिंग (Child Health And Health Nursing)
  • स्वास्थ्य केंद्र प्रबंधन सिद्धांत/व्यवहारिक (Health Center Management Theory /Practical)

तो इस प्रकार 2 साल के ANM Course में आपको इन विषयों को पढ़ना होगा तथा इनसे जुड़ी सारी जानकारी रखनी होगी।

ANM के प्रमुख कार्य –

ANM कार्यकर्ताओं के बहुत सारे कार्य होते हैं। ANM Course करते समय छात्राओं को समाज के लोगों की देखभाल व स्वास्थ्य देखभाल करना सिखाया जाता है और स्वास्थ्य संबंधित सारी परेशानियों को दूर करना सिखाया जाता है। ANM कार्यकर्ता एक नर्स की तरह अपने सारे कर्तव्यों का पालन करती है। तो आइए जानते हैं एक ANM कार्यकर्ता के प्रमुख कार्य कौन-कौन से हैं –

1.ANM कार्यकर्ता के प्रमुख कार्य होता है समाज के लोगों की स्वास्थ्य संबंधित देखभाल करना ।
2.समाज के लोगों को परिवार नियोजन संबंधी जानकारी देना।
3.समाज के लोगों को प्राथमिक उपचार संबंधी जानकारी देना।
4.ज्यादातर ANM ग्रामीण इलाकों में कार्यरत होती है इनका मुख्य कारण समुदाय में रह रहे लोगों को गंदगी से बचाने सफाई और हेल्थ से संबंधित बातों की जानकारी देना है।

ANM Course करने के बाद क्या करे

इस Course को करने के बाद छात्राएं किसी भी Government या फिर किसी भी Private Hospitals मे एक नर्स के रूप में कार्यरत हो सकती है और अपना भविष्य उज्जवल बना सकती हैं। इसके साथ ही अपने आप को आर्थिक रूप से मजबूत बना सकती हैं। अब सवाल आता है कि इस Course को करने के बाद आप किन किन पदों पर नौकरी के लिए Apply कर सकती हैं। तो आप निचे दिए गए सारे पदों पर नौकरी के लिए Apply कर सकती हैं।

  • सामुदायिक स्वास्थ्य नर्स (Community Health Nurse)
  • नर्सिंग ट्यूटर (Nursing Tutor)
  • शिक्षक नर्सिंग स्कूल (Teacher Nursing School)
  • आईसीयू नर्स (ICU Nurse)
  • पोषण शिक्षक(Nutrition Educator)
  • स्टाफ नर्स (Staff Nurse)
  • होम केयर नर्स (Home Care Nurse)

ANM के लिए नौकरी क्षेत्र

ANM करने के बाद आप प्राइवेट और सरकारी क्षेत्र में महीने के कम से कम 12,000 से 15,000 तक कमाया जा सकता है। आप किसी भी संस्था से जुड़कर अच्छा पैसा कमा सकती हैं। कुछ रोजगार प्रदान करने वाले रोजगार के क्षेत्र हैं जहां ANM किए हुए छात्राओं के लिए रोजगार होता है। वह इस प्रकार है –

  • Nursing Home
  • Government Dispensaries
  • Rural Health centers
  • Community Health Centers
  • Staff Nurse
  • Private Hospital/Clinic
  • Government Hospital
  • NGO Non-Government Organization
  • Nursing Assistant
  • Old Age Home

ANM और GNM में क्या अंतर है?

ANM और GNM दोनों सुनने में एक जैसे ही लगते है और दोनों Medical Field से जुड़े हुए courses है। आइये जानते है ANM और GNM में क्या अंतर है।

  • ANM कोर्स 2 वर्ष का Diploma Course है और GNM 3 वर्ष का कोर्स है, इसलिए GNM को ANM की तुलना में Nursing Field में उच्च स्तर का कोर्स माना जाता है।
  • ANM Course के लिए Education Qualification 10th पास है और GNM कोर्स के लिए 12वी में उत्तीर्ण होना अनिवार्य है, और ANM कोर्स सिर्फ महिलाओं के लिए है जबकि GNM कोर्स को महिलाएं और पुरुष दोनों कर सकते है।
  • ANM को ग्रामीण क्षेत्रों में काम करने का मौका मिलता है लेकिन GNM किये हुए Hospital और Wards में भी काम कर सकते है। अतः दोनों की जिम्मेदारी के क्षेत्र अलग-अलग होते है।
  • जैसा हमने बताया की GNM 3 वर्ष का कोर्स है तो GNM वालो को ANM वालो की तुलना में ज्यादा Salary मिलती है जो की 15 हज़ार से लेकर 25 हज़ार तक हो सकती है।

ये भी जरूर पढ़े:

दोस्तों आज की Post में हमने आपको जानकारी दी ANM Course और ANM Full Form In Hindi क्या है? पूरा लेख पढ़ने के बाद हम जान गए है की ANM Course करने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए और हम इस कोर्स में कैसे Admission ले सकते है। साथ ही हमने जानकारी प्राप्त की, एक ANM के क्या कार्य होते है और ANM कोर्स करने के बाद किस क्षेत्र में नौकरी के अवसर है। अब हमे समझ आ गया होगा की ANM कोर्स करना कितना फायदेमंद साबित हो सकता है। अगर आप 12th के बाद Medical Field में अपना करियर बन सकते है तो आप इस कोर्स को चुन सकते है । हम आशा करते हैं आपको हमारा या Post पसंद आया होगा। आपको हमारा ये Post कैसा लगा हमे जरुर बताएं। साथ ही अगर आपके पास इस विषय से जुड़ी कोई सवाल या जिज्ञासा है तो आप वो भी हमें बता सकते हैं।