Home English Active and Passive Voice In Hindi – Examples

Active and Passive Voice In Hindi – Examples

0
55
active and passive voice in hindi

अंग्रेजी सीखने का रास्ता Grammar (व्याकरण) से होकर जाता है। अगर आप अंग्रेजी के व्याकरण को अच्छी तरह से समझ लेते हैं तो आप आसानी से अंग्रेजी को सीख सकते हैं। English Grammar में जिस तरह से Tense महत्वपूर्ण होते हैं उसी तरह से इसमें Active and Passive Voice भी काफी महत्वपूर्ण होते हैं। आज के इस लेख में हम बात करेंगे Active and Passive Voice In Hindi की और साथ हम इसके Examples भी देखेंगे।

Active और Passive Voice को सीखने के बाद आप आसानी से किसी भी वाक्य का निर्माण कर पाएंगे। इससे आप एक वाक्य को दूसरे वाक्य में परिवर्तित कर पाएंगे। कई परीक्षाओं में भी Active और Passive Voice से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। ऐसे में इसका ज्ञान होना काफी ज्यादा जरूरी है इसलिए आपकी मदद के लिए हम नीचे Active और Passive Voice क्या है? Active और Passive Voice के नियम आदि के बारे में बता रहे हैं। हालांकि, Active and Passive Voice In Hindi को सीखने से पहले यह जानना जरूरी है कि Voice क्या होता है? तो चलिए शुरू करते हैं।

वाच्य किसे कहते हैं? | What Is Voice?

Voice को हिंदी में ‘वाच्य’ के नाम से जाना जाता है। यह क्रिया का वह रूप है जो हमें यह बताता है कि Subject द्वारा किसी कार्य को स्वयं किया जा रहा है या फिर कर्ता द्वारा किए गए कार्यों का परिणाम भोगा जा रहा है। आसान शब्दों में कहें तो हम यह कह सकते हैं कि इसमें हमें यह पता चलता है कि Subject किए गए कार्य के लिए प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से जिम्मेदार होता है। वाच्य (Voice) दो प्रकार के होते हैं। हिंदी में इन्हें कर्तृवाच्य और कर्मवाच्य (Active and Passive Voice in Hindi) कहा जाता है। वहीं अंग्रेजी में यह Active Voice और Passive Voice कहलाते हैं। आइए इनके बारे में विस्तार से जानते हैं।

वाच्य के कितने प्रकार हैं? | Types of Voice

वाच्य के दो प्रकार होते हैं जो कि निम्नलिखित हैं :-

कर्तृवाच्य (Active Voice)

जब किसी व्यक्ति या वस्तु द्वारा किसी कार्य को कर्ता (Subject) के रूप में किया जाता है, तब वहां Active Voice आता है। Active Voice में कर्ता किसी भी कार्य को सीधे तौर पर करता है। कर्तृवाच्य में मुख्य Focus कर्ता (Subject) पर होता है जबकि कर्ता का Focus कर्म (Object) पर होता है। Active Voice में मुख्यतः नीचे दिए गए Structure को Follow किया जाता है।

Active Voice :- Subject + Verb + Object

 Examples :-

  • करण एक पत्र लिखता है। (Karan Writes A Letter)
  • पवन खाना खाता है। (Pawan Eats The Food)
  • राधा टीवी देख रही है। (Radha is Watching TV)
  • प्रिया खेल रही है। (Priya Is Playing)
  • कमल गाना गा रहा है। (Kamal Is Singing A Song)

जैसा कि उपरोक्त वाक्य में कर्ता द्वारा किए जा रहे कार्यों के बारे में बताया जा रहा है। इसमें कर्ता Writes, Watching, Eats, Playing, Singing जैसे कार्यों को करता है तथा इन सभी कार्यों में वे सक्रिय हैं। इस तरह हम कह सकते हैं कि इन सभी शब्दों में Active Voice मौजूद है।

कर्मवाच्य (Passive Voice)

वह वाक्य जिसमें किसी व्यक्ति या वस्तु द्वारा Subject के रूप में कार्य नहीं किया जाता। यानी कि उनकी जगह किए गए कार्य का परिणाम भोगा जाता है, तो वहां Passive Voice होता है। इसमें Subject की जगह Object पर मुख्य Focus होता है तथा इसमें कर्ता द्वारा किए गए कार्य को होते हुए दिखाया जाता है।

Examples :-

  • पत्र करण द्वारा लिखा जा रहा है। (A Letter Is Written by him)
  • खाना उसके द्वारा खाया जा रहा है। (Food Is Eaten By him)
  • टीवी राधा द्वारा देखा जा रहा है। (Tv Is being Watched By Radha)

जैसे कि आपने देखा ऊपर बताए गए वाक्यों में पत्र, खाना, टीवी, हाथी यानी की Objects को प्रधानता दी गई है। इसके साथ ही इन वाक्यों से हमें पता चलता है कि किसी व्यक्ति या वस्तु द्वारा किए गए कार्यों का प्रभाव उन पर पड़ रहा है।

Active और Passive Voice में अंतर | Difference Between Active And Passive Voice In Hindi

Active और Passive Voice में प्रमुख अंतर यह है कि जहां Active Voice में Subject सबसे पहले आता है, इसके बाद Verb और Object को जगह दी जाती है। हालांकि Passive Voice में ऐसा नहीं होता। इस Voice में सबसे पहले Object को जगह दी जाती है। इसके बाद Verb और सबसे अंत में Subject आता है।

हालांकि इन दोनों में ही Subject और Object एक ही रहते हैं लेकिन इसमें क्रिया को बदल दिया जाता है।

Active से Passive Voice में बदलने के प्रमुख नियम | Active To Passive Voice Rules

वाक्य संरचना में बदलाव

जब Active Voice से वाक्य को passive Voice में बदला जाता है तब इसकी पूरी वाक्य संरचना बदल जाती है। यानी कि Active Voice में मौजूद Subject, Passive Voice में जाकर Object बन जाता है जबकि Active Voice का ऑब्जेक्ट Passive Voice में Subject बन जाता है। Active and Passive Voice In Hindi

Examples:

  • Active Voice – Priya Writes A Book.
  • Passive Voice – A book Is Written By Priya.

By का इस्तेमाल

जब किसी वाक्य का Active Voice से Passive Voice में बनाया जाता है तब इसमें Subject से पहले By का इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि By का इस्तेमाल अक्सर नहीं होता। कई बार with और to का भी प्रयोग किया जाता है।

Examples:

  • Active– She Drinks Water.
  • Passive – Water is Drunk by Her.

Note: कई बार passive Voice में Subject का इस्तेमाल हो यह जरूरी नहीं होता। बहुत बार Subject के बिना ही वाक्यों का निर्माण किया जाता है। उदाहरण के तौर पर Women’s Are Not Safe In India , Salt Is Sold In Kilogram.

Main Verb की 3rd form का प्रयोग

जब Active Voice को passive Voice में परिवर्तित किया जाता है तब इसमें Main Verb की 3rd form का इस्तेमाल होता है।

  • Active Voice – Priya Writes A Book.
  • Passive Voice – A book Is Written By Priya.

Helping Verb का इस्तेमाल

जब किसी व्यक्ति या वस्तु को Active Voice से Passive Voice में बदला जाता है तो बीच में Helping Verb की भूमिका काफी महत्वपूर्ण होती है। Helping Verb का इस्तेमाल Tense के अनुसार किया जाता है। आइए जानते हैं उसके क्या नियम है?

TenseHelping Verbs For ActiveVoiceHelping Verbs For Passive Voice
Present Indefinite TenseVerb की 1st FormIs,am, are
Present Perfect TenseHas/haveHas been / Have been
Present Continuous TenseIs,am, areIs,am, are + being
   
Past Indefinite TenseVerb की 2nd formWas/were
Past Perfect TenseHadHad been
Past Continuous TenseWas/wereWas Being/were Being
   
Future Indefinite TenseWill/ShallWill Be
Future Perfect TenseWill Have / Shall HaveWill have been

Conclusion

हमें उम्मीद है आपको हमारा यह पोस्ट  Active And Passive Voice In Hindi पसंद आया होगा। दोस्तों आपने अक्सर देखा होगा की SSC द्वारा आयोजित करवाए जाने वाले Exams के English Section में Active And Passive Voice से सवाल पूछे जाते है। इसलिए यह लेख उन विद्यार्थियों के लिए भी उपयोगी है जो Competitive Exams की तैयारी कर रहे है। इस पोस्ट से संबंधित अन्य जानकारी जानने के लिए हमें Comment Section में बताएं। Post अच्छा लगा हो तो इसे मित्रों तक साझा करना ना भूलें।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here